Home Blog

पाकिस्‍तान के गेंदबाजी सलाहकार ने मैच के बीच में छोड़ा टीम का साथ, अब घर लौटने को तैयार!

0


नई दिल्‍ली. पाकिस्‍तान और बांग्‍लादेश (Pakistan vs Bangladesh) के बीच चटगांव में टेस्‍ट मैच खेला जा रहा है और इस मैच में बांग्‍लादेश का पलड़ा भारी नजर आ रहा है. इसी बीच पाकिस्‍तान के गेंदबाजी सलाहकार वर्नोन फिलेंडर (vernon philander) मैच के बीच में ही टीम का साथ छोड़कर अपने घर साउथ अफ्रीका लौटने की तैयारी करने लगे हैं. दरअसल फिलेंडर के जल्‍दी टीम का साथ छोड़ने के पीछे साउथ अफ्रीका में यात्रा प्रतिबंध प्रमुख कारण है. साउथ अफ्रीका में कोविड-19 (Covid-19) के एक नए वैरिएंट ओमिक्रॉन (omicron) के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, जिसे लेकर पूरी दुनिया चिंता में है.

इस वजह से साउथ अफ्रीका की सरकार ने यात्रा पर सख्‍त प्रतिबंध लगा दिया है. फिलेंडर अपने घर से दूर रहना नहीं चाहते, इसी वजह से वह सोमवार को पाकिस्‍तान टीम का साथ छोड़ देंगे. पाकिस्‍तान के एक पत्रकार ने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी कि फिलेंडर की पहले योजना टेस्‍ट खत्‍म होने के बाद घर लौटने की थी, मगर यात्रा प्रतिबंध के चलते अब वो जल्‍दी टीम का साथ छोड़ेंगे.

कोविड के नए वैरिएंट ने अफ्रीकन देशों में क्रिकेट को प्रभावित किया है. इस वायरस के कारण साउथ अफ्रीका और नीदरलैंड्स के बीच वनडे सीरीज को रद्द कर दिया गया. जबकि महिला टी20 वर्ल्‍ड कप के क्‍वालीफाइंग को भी रद्द कर दिया गया है.

BAN vs PAK 1st Test : पाकिस्तान को 286 रन पर समेटा, फिर बांग्लादेश की खराब शुरुआत

ऋषभ पंत जब उपलब्ध नहीं, तभी ‘मुश्किल काम’ के लिए ऋद्धिमान साहा की जरूरत होगी: विक्रम राठौड़

अब भारत के साउथ अफ्रीका दौरे पर भी संकट के बादल मंडरा रहे हैं. भारत को अगले महीने साउथ अफ्रीका का दौरा करना है, जहां उसे 3 टेस्‍ट, 3 वनडे और 4 टी20 मैचों की सीरीज खेलनी है. अगर आने वाले समय में स्थिति बेहतर नहीं होती है तो इस दौरे को लेकर भी कड़ा फैसला लिया जा सकता है. वहीं बांग्‍लादेश और पाकिस्‍तान के बीच चल रहे टेस्‍ट मैच की बात करें तो बांग्‍लादेश ने पहली पारी में 330 रन बनाने के बाद पाकिस्‍तान को 286 रन पर रोक दिया और पहली पारी में 44 रन की बढ़त हासिल कर ली. हालांकि तीसरी पारी में बांग्‍लादेश की टीम कुछ खास शुरुआत नहीं कर पाई और 39 रन पर ही 4 विकेट गंवा दिए.

Tags: Bangladesh, COVID 19, Cricket news, Omicron, Pakistan





Source link

TOP 10 Sports News: गेंदबाजों के हाथ में भारत की जीत, पूर्व भारतीय स्पिनर ने लगाया भेदभाव का आरोप

0


नई दिल्‍ली. भारतीय टीम (Team India) ने पहले टेस्ट में न्यूजीलैंड के सामने 284 रन का लक्ष्य रखा है. टीम ने दूसरी पारी 7 विकेट पर 234 रन बनाकर घोषित की. पहली पारी में शानदार शतक लगाने वाले श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) ने दूसरी पारी में शानदार अर्धशतक लगाया. इसके अलावा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा ने भी 61 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली. टीम इंडिया के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) ने कहा कि अगले टेस्‍ट मैच में कप्तान विराट कोहली वापसी कर रहे हैं. जब हम मुंबई पहुंचेंगे तो इस पर फैसला करेंगे. अभी ध्यान इस मैच पर है, इसमें एक दिन बचा है और मैच जीतना होगा. राठौड़ पूरी तरह समझते हैं कि चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) और अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ऐसे भारतीय खिलाड़ी हैं जो अपने टेस्ट करियर के अंतिम पड़ाव पर हैं.

टीम इंडिया ने पहले टेस्ट में न्यूजीलैंड के सामने 284 रन का लक्ष्य रखा है. टीम ने दूसरी पारी 7 विकेट पर 234 रन बनाकर घोषित कर दी. पहली पारी में शानदार शतक लगाने वाले श्रेयस अय्यर ने दूसरी पारी में शानदार अर्धशतक लगाया. इसके अलावा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा ने भी 61 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली. भारत ने पहली पारीमें 345 जबकि न्यूजीलैंड ने 296 रन बनाए थे. इस तरह से उसे 49 रन की बढ़त मिली थी. चौथे दिन का खेल खत्म होने पर न्यूजीलैंड ने दूसरी पारी में एक विकेट पर 4 रन बना लिए थे.

पाकिस्तान के तेज गेंदबाजों ने पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन बांग्लादेश के दूसरी पारी में 4 विकेट 25 रन पर निकाल दिए जिससे मैच अब बराबरी का हो गया है. इससे पहले स्पिनर ताइजुल इस्लाम के 7 विकेट की मदद से बांग्लादेश ने पाकिस्तान को 286 रन पर आउट किया और 44 रन की बढ़त ले ली थी. मेजबान टीम ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक 19 ओवर में 4 विकेट खोकर 39 रन बनाए.

पूर्व भारतीय लेग स्पिनर लक्ष्मण रामकृष्णन ने आरोप लगाया है कि उन्होंने जीवन भर रंग के कारण भेदभाव का सामना किया है, जो उनके अपने देश में भी किया गया है. शिवरामकृष्णन भारत के लिए 9 टेस्ट और 16 वनडे खेल चुके हैं. शिवरामकृष्णन ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि मैंने अपनी पूरी जिंदगी रंग के कारण भेदभाव और आलोचना का सामना किया है. इसलिए यह मुझे अब परेशान नहीं करता. दुर्भाग्य से यह मेरे अपने देश में हुआ.

श्रेयस अय्यर ने कहा, ‘राहुल (द्रविड़) सर ने मुझसे ज्यादा से ज्यादा गेंदों पर बल्लेबाजी करने के लिए कहा था. मैंने उनकी सलाह पर काम करने की ठान ली थी.’

ओलंपिक चैंपियन विक्टर एक्सेलसन ने इंडोनेशिया ओपन बैडमिंटन पुरुष सिंगल्स का खिताब जीता लिया. डेनमार्क के स्टार खिलाड़ी विक्टर ने फाइनल मैच में सिंगापुर के लो कीन यू को मात दी. दूसरी वरीयता प्राप्त 27 साल के विक्टर एक्सेलसन ने 21-13, 9-21, 21-13 से जीत दर्ज की.

अनुभवी अजिंक्य रहाणे न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के पहले टेस्ट मैच में भारतीय टीम की कप्तानी संभाल रहे हैं. इस टेस्ट मैच में हालांकि उनका प्रदर्शन खास नहीं रहा और वह दोनों पारियों में कुल 39 रन बना पाए. पूर्व भारतीय क्रिकेटर प्रज्ञान ओझा ने रहाणे के खराब प्रदर्शन पर कहा कि वह मानसिक रूप से परेशान नहीं है, बल्कि उनके फुटवर्क में समस्या है.

जिम्बाब्वे में वर्ल्ड कप क्वालिफायर टूर्नामेंट खेलने गई श्रीलंका की महिला क्रिकेट टीम की 6 खिलाड़ी कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गईं हैं.

भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या इस समय अपनी फिटनेस पर पूरा ध्‍यान लगाना चाहते हैं और इसी वजह से उन्‍होंने नेशनल चयनकर्ताओं से कहा कि कुछ समय के लिए उनके नाम पर विचार न करें, क्‍योंकि वह पूरी तरह से फिटनेस को हासिल करने पर ध्‍यान लगा रहे हैं.

भारत और न्यूजीलैंड के बीच कानपुर में चल रहे पहले टेस्ट की दूसरी पारी में भी श्रेयस अय्यर भारत के लिए संकटमोचक बनकर उभरे. अय्यर ने दूसरी पारी में भी अपना अर्धशतक लगाया. इसके साथ ही वो डेब्यू टेस्ट की एक पारी में शतक और दूसरी में अर्धशतक जड़ने वाले पहले भारतीय बने.

भारत की स्टार टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा वर्ल्‍ड चैंपियनशिप में इतिहास रचने से चूक गई. मिक्‍स्‍ड और वीमंस डबल्‍स के मुकाबले के क्वार्टर फाइनल में हार के साथ विश्व टेबल टेनिस चैंपियनशिप में पदक जीतने में नाकाम रहीं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi. हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.





Source link

BAN vs PAK 1st Test : पाकिस्तान को 286 रन पर समेटा, फिर बांग्लादेश की खराब शुरुआत

0


चटगांव. पाकिस्तान के तेज गेंदबाजों ने पहले टेस्ट मैच (BAN vs PAK 1st Test) के तीसरे दिन बांग्लादेश के दूसरी पारी में 4 विकेट 25 रन पर निकाल दिए जिससे मैच अब बराबरी का हो गया है. इससे पहले स्पिनर ताइजुल इस्लाम (Taijul Islam) के 7 विकेट की मदद से बांग्लादेश ने पाकिस्तान को 286 रन पर आउट किया और 44 रन की बढ़त ले ली थी. मेजबान टीम ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक 19 ओवर में 4 विकेट खोकर 39 रन बनाए. स्टंप्स के समय मुश्फिकुर रहीम 12 और यासिर अली 8 रन बनाकर क्रीज पर थे. बांग्लादेश के पास अब 83 रन की बढ़त है लेकिन उसके 6 विकेट ही बाकी हैं.

पहली पारी में पिछड़ने के बावजूद पाकिस्तान ने अपने तेज गेंदबाजों शाहीन शाह अफरीदी (Shaheen Shah Afridi) और हसन अली के दम पर वापसी की. अफरीदी ने तीसरे ही ओवर में दो विकेट लेकर पहले शादमान को पगबाधा आउट किया और दो गेंद बाद नजमुल हुसैन को पहली स्लिप में लपकवाया. वहीं, ओपनर सैफ हसन उन्हें रिटर्न कैच देकर लौटै. हसन अली ने कप्तान मोमिनुल हक को खाता खोले बिना रवाना किया.

इसे भी पढ़ें, भारत के स्पिनर का दर्द, कहा- पूरी जिंदगी रंग के कारण मेरे साथ हुआ भेदभाव

इससे पहले ताइजुल ने पाकिस्तानी बल्लेबाजी क्रम को तहस-नहस कर दिया. पाकिस्तान ने बिना किसी नुकसान के 145 रन से आगे खेलना शुरू किया था. सलामी बल्लेबाज आबिद अली ने 282 गेंद में 133 रन बनाये जिसमें 12 चौके और दो छक्के शामिल थे. ताइजुल ने पहले ही ओवर में अब्दुल्ला शफीक और अजहर अली को लगातार दो गेंदों पर आउट किया. कप्तान बाबर आजम को मेहीदी हसन ने पैवेलियन भेजा.

Tags: Ban vs pak, Bangladesh vs Pakistan, Cricket news, Shaheen Afridi





Source link

Vikram Rathour: ‘Pujara, Rahane will play important knocks for us in future’

0


News

India’s batting coach throws his weight behind the two under-fire “senior cricketers”

Shreyas Iyer’s century and fifty in his debut Test, the only time an Indian batter has done so, has turned the spotlight squarely on Ajinkya Rahane and Cheteshwar Pujara as full-time captain Virat Kohli returns for the Mumbai Test next week. India’s batting coach, Vikram Rathour, however, has thrown his weight behind the two veteran batters without giving any hints into whether Iyer will be retained for the next Test.

Rathour was specifically asked about how much of a concern the returns from the “two senior cricketers” have been. “Of course we want our top order to contribute, but the cricketers you mentioned have played 80 and 90 Test matches so they have the experience,” Rathour said. “Of course to play that many games they must have done well for us. I understand both of them are going through a lean phase but they have played very very important knocks for us in the past, and we are pretty sure they will come back and play more important knocks for our team in the future as well.”

Rahane now averages 24.39 over his last 16 Tests, including one century in the Boxing Day Test. With scores of 35 and 4 in this Test, his career average has now dipped below 40. At home he averages 35.73.

In 23 Tests since the 2018-19 tour of Australia, Pujara has not scored a century and has averaged 28.61. He has played important supporting knocks in Australia and in England, but has never regained the fluency of his batting, which shows in a strike-rate of 36.1 over the period. Pujara managed 26 and 22 in this Test.

At one stage, India were 51 for 5, an overall lead of 100 on a surface both teams feel hasn’t deteriorated as much as you expect pitches in India to do. From the precarious situation, India were helped by the slowness of the pitch and the absence of a menacing spinner who could follow up on the good work done by the two seam bowlers.

Iyer and Wriddhiman Saha took India to safety before India practically batted New Zealand out of the game. Had India been struggling in the Test, the scrutiny on Pujara and Rahane would have been more intense. Still Rathour was asked how many Tests can be given even to proven performers if the runs are not coming.

“I don’t think we can put a number to that,” Rathour said. “That really depends on the situation the team is in, and what the team requires.”

So what happens when Kohli comes back? “The captain coming back in will happen in Mumbai, I understand,” Rathour said. “We will get to that point when we reach Mumbai. At this point we are focused on this game. There is still a day to go, and a game to be won. So we are really focused on this game.”

At least can you confirm Iyer will play the next Test? “That decision we will take when we land in Mumbai,” Rathour said.

These are of course difficult decisions to make, but a team management would rather players outside the XI keep those in under pressure than there not being enough alternatives. A similar situation is brewing in the wicketkeeping department, but there Rathour confirmed Rishabh Pant takes over when he comes back.

“Unfortunately for Wriddhi, we have an extremely special player, Rishabh Pant, who is the No. 1 keeper for the team, who has done extremely well for us in the past two years,” Rathour said. “That’s the role Wriddhi has at the moment. He is there whenever we need him. Whenever Pant is not there. Again he showed today with the knock he played today that how important he is and how good he is.”

However, you can’t be so sure about even that role for Saha, who is 37 now and didn’t complete two of his three overseas tours either through injury or lack of batting capability. Even though he overcame a stiff neck to score a fighting fifty that helped take India to safety in Kanpur, his absence behind the wicket opened the door for a younger contender, KS Bharat, who was impressive with his keeping, taking effecting three extremely difficult dismissals on a pitch with up-and-down bounce.

It will not be unreasonable to look at the future now and slot Bharat in as the back-up to Pant. If Saha is fit and ready come Mumbai, that will be another happy headache for the team management.

Sidharth Monga is an assistant editor at ESPNcricinfo



Source link

ऋषभ पंत जब उपलब्ध नहीं, तभी ‘मुश्किल काम’ के लिए ऋद्धिमान साहा की जरूरत होगी: विक्रम राठौड़

0


कानपुर. भारत के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) ने रविवार को कहा कि ऋद्धिमान साहा ‘आदर्श टीम’ खिलाड़ी हैं जिन पर हमेशा ‘मुश्किल काम’ के लिए निर्भर किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण है कि उन्हें भारत के नंबर-1 विकेटकीपर ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की अनुपस्थिति में ही यह भूमिका निभानी होगी. रविवार को साहा ने गर्दन में जकड़न के साथ बल्लेबाजी की और नाबाद 61 रन की पारी खेली.

37 साल के ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) मौजूदा भारतीय टीम के सबसे ज्यादा उम्र के खिलाड़ी हैं जो 11 साल पहले अपने पदार्पण के बाद अपना 39वां मैच खेल रहे हैं. पदार्पण के बाद पहले पांच वर्ष महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) के लिए स्थानापन्न बनने में चले गये और अब वह 24 वर्षीय पंत के ‘बैक-अप’ हैं. साहा ने न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के पहले टेस्ट मैच की दूसरी पारी में 126 गेंदों पर 4 चौकों और 1 छक्के की मदद से 61 रन बनाए और नाबाद लौटे.

इसे भी देखें, साहा ने चोट की परवाह नहीं की, टीम को संकट से उबारा, जीत के करीब पहुंचाया

बल्लेबाजी कोच राठौड़ ने अनुभवी विकेटकीपर के बारे में पूछे गए सवालों पर कहा, ‘उनकी (साहा) गर्दन में जकड़न थी और यह जानते हुए कि वह एक आदर्श टीम खिलाड़ी हैं, वह वही करेंगे जिसकी टीम को जरूरत है. वह टीम के लिए मुश्किल चीजें करेंगे और उस समय टीम जिस स्थिति में थी, उन्होंने बहुत ही महत्वपूर्ण पारी खेली.’

उन्होंने कहा, ‘हम हमेशा उनसे इसकी ही उम्मीद करते हैं. वह हमेशा ऐसे खिलाड़ी रहे हैं जिस पर हम भरोसा कर सकते हैं और आज उन्होंने दिखा दिया कि ऐसा क्यों है.’ राठौड़ ने कहा, ‘जहां तक उनका सवाल है तो दुर्भाग्य से हमारे पास बहुत ही विशेष खिलाड़ी ऋषभ हैं जो हमारे लिए नंबर-1 विकेटकीपर हैं और उन्होंने पिछले कुछ वर्षों में हमारे लिए शानदार प्रदर्शन किया है. साहा की भूमिका (दूसरे नंबर पर) यही है कि जब पंत उपलब्ध नहीं होंगे, तभी हमें उनकी जरूरत होगी.’

Tags: Cricket news, IND vs NZ 1st test, India vs new zealand, Rishabh Pant, Vikram rathour, Wriddhiman saha





Source link

पैट कमिंस को टेस्ट कप्तान बनाने से पहले CA ने रखी थी शर्त, गेंदबाज ने किया खुलासा

0


नई दिल्ली. पैट कमिंस (Pat Cummins) ने टेस्ट कप्तान बनाने के लिए अपनाई गई क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (Cricket Australia) की चयन प्रक्रिया को लेकर चौंकाने वाला खुलासा किया है. 28 साल के कमिंस ने कहा कि उन्हें कप्तानी सौंपने से पहले सेलेक्टर्स ने उनसे अपने तमाम राज बताने के लिए कहा था. कमिंस ने एबीसी को दिए इंटरव्यू में इसका खुलासा किया. कमिंस को एशेज सीरीज (Ashes 2021) से ठीक पहले कप्तान बनाया गया है. बीते हफ्ते महिला सहकर्मी को अश्लील और भद्दे मैसेज भेजने के मामले में टिम पैन ने कप्तानी छोड़ दी थी. इसके बाद उन्होंने क्रिकेट से लंबा ब्रेक ले लिया है.

यह पूछे जाने पर कि क्या क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के पैनल ने कप्तान नियुक्त होने से पहले उनसे “कबूलनामे जैसा कुछ” करवाया था. इस पर पैट कमिंस (Pat Cummins) ने कहा कि हां, कुछ ऐसे सवाल थे. लेकिन मैं इसके डिटेल में नहीं जाऊंगा. कमेटी में सीए के मुख्य चयनकर्ता जॉर्ज बेली, सेलेक्टर टोनी डोडेमैड, सीए बोर्ड के सदस्य मेल जोन्स, सीईओ निक हॉकले और अध्यक्ष रिचर्ड फ्रायडेनस्टीन के पांच सदस्यों ने कप्तानी पद के लिए मेरा नाम चयन किया.

कमिंस ने आगे कहा कि चयन समिति के साथ खुली चर्चा हुई थी. हमने कई मुद्दों पर खुलकर बात की और चर्चा के बाद दोनों ही पक्ष ने काफी सहज महसूस किया.

हमारी तैयारी प्रभावित नहीं हुई: कमिंस
कमिंस ने इस बात को भी खारिज कर दिया कि इस साल कम टेस्ट क्रिकेट खेलने के कारण एशेज सीरीज (Ashes Series) के लिए ऑस्ट्रेलिया की तैयारी प्रभावित हुई है. जोश हेजलवुड, मिचेल स्टार्क, डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ के अलावा, खुद कमिंस सहित कई शीर्ष ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों ने कोविड के कारण अंतरराष्ट्रीय स्तर पर या प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 6 महीने से अधिक समय तक रेड-बॉल क्रिकेट नहीं खेली.

IND vs NZ: भारत ने न्यूजीलैंड को दिया 284 रन का लक्ष्य, कोई टीम अब तक यहां नहीं पहुंची

‘ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजों का कोई बहाना नहीं चलेगा’
इस बीच, ऑस्ट्रेलियाई के तेज गेंदबाजी कोच एंड्रयू मैकडॉनल्ड ने कहा कि वह अपने तेज गेंदबाजों से कोई बहाना स्वीकार नहीं करेंगे. क्योंकि एशेज का पहला टेस्ट 8 दिसंबर से शुरू हो रहा है.
मैकडॉनल्ड्स ने रविवार को ऑस्ट्रेलिया के पहले अभ्यास सत्र के दौरान कहा, “कोरोना के दौर में हमारा ट्रेनिंग शेड्यूल बहुत लंबा नहीं होगा. क्योंकि खिलाड़ी टी20 विश्व कप खेलकर लौटे हैं. फिर उन्हें क्वारंटीन में भी रहना पड़ा. हालांकि, मॉर्डन डे क्रिकेट खिलाड़ियों के लिए सबसे अहम यही होता है कि वो हालात के मुताबिक खुद को ढाल लें. हमारी तरफ से कोई बहाना नहीं होगा और मुझे यकीन है कि इंग्लैंड की टीम भी कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगी.”

Tim Paine Controversy: स्टीव स्मिथ को उप-कप्तान बनाने से सीए पर भड़का दिग्गज, कहा- धोखा तो धोखा होता है

ऑस्ट्रेलिया के एशेज टीम के सदस्य, जो टी20 विश्व कप की टीम में भी शामिल थे. फिलहाल गोल्ड कोस्ट में क्वारंटीन हैं और वहीं ट्रेनिंग कर रहे हैं.

Tags: Ashes 2021, Cricket australia, Cricket news, Pat cummins, Steve Smith





Source link

भारत के स्पिनर का दर्द, कहा- पूरी जिंदगी रंग के कारण मेरे साथ हुआ भेदभाव

0


कानपुर. पूर्व भारतीय लेग स्पिनर लक्ष्मण रामकृष्णन (Laxman Sivaramakrishnan) ने आरोप लगाया है कि उन्होंने जीवन भर रंग के कारण भेदभाव का सामना किया है, जो उनके अपने देश में भी किया गया है. शिवरामकृष्णन भारत के लिए (Team India) 9 टेस्ट और 16 वनडे खेल चुके हैं. उन्होंने इंग्लैंड क्रिकेट को सुर्खियों में लाने वाले नस्लवाद प्रकरण के संदर्भ में अपने अनुभव का खुलासा किया. शिवरामकृष्णन ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि मैंने अपनी पूरी जिंदगी रंग के कारण भेदभाव और आलोचना का सामना किया है. इसलिए यह मुझे अब परेशान नहीं करता. दुर्भाग्य से यह मेरे अपने देश में हुआ. इससे पहले इंग्लैंड (England) के पूर्व क्रिकेटर अजीम रफीक ने अपने देश के कई पूर्व खिलाड़ियों पर इस तरह के आरोप लगाए हैं.

पूर्व लेग स्पिनर ट्विटर पोस्ट पर प्रतिक्रिया दे रहे थे. शिवरामकृष्णन ही एकमात्र भारतीय खिलाड़ी नहीं हैं, जिन्होंने भेदभाव किए जाने के बारे में बात की है. हालांकि उन्होंने किसी खिलाड़ी का नाम नहीं लिया. इससे पहले तमिलनाडु के सलामी बल्लेबाज अभिनव मुकुंद (Abhinav Mukund) ने भी 2017 में सोशल मीडिया पर यह मुद्दा उठाया था. मुकुंद भारत के लिए सात टेस्ट मैच खेल चुके हैं. उन्होंने ट्विटर पेज पर एक बयान पोस्ट किया था, जिसमें लिखा था, ‘मैं 15 साल की उम्र से देश के अंदर और बाहर यात्रा करता रहा हूं. जब से मैं युवा था, तब से ही लोगों की मेरी त्वचा के रंग के प्रति सनक मेरे लिए हमेशा रहस्य बनी रही.’

लक्ष्मण रामकृष्णन का ट्वीट.

उन्होंने बयान में कहा था, ‘जो भी क्रिकेट का अनुसरण करता है, वह इसे समझेगा. मैं धूप में पूरे दिन ट्रेनिंग करता और खेलता रहा हूं और कभी भी एक बार भी मुझे त्वचा के रंग के गहरे (टैन) होने का पछतावा नहीं हुआ है.’ उन्होंने कहा, ‘ऐसा इसलिए है, क्योंकि मैं जो करता हूं, मुझे वो पसंद है और आउटडोर घंटों के अभ्यास के बाद ही मैं निश्चित चीजों को हासिल करने में सफल हुआ हूं. मैं चेन्नई से हूं, जो देश के सबसे गर्म स्थानों में से एक है.’

यह भी पढ़ें: Abu Dhabi T10: इंग्लिश बल्लेबाज ने 11 गेंद पर बना डाले 58 रन! क्रिस गेल के साथ मिलकर मचाया कोहराम

यह भी पढ़ें: IND vs NZ: श्रेयस अय्यर ने पारी देर से घोषित करने के लिए पिच को ठहराया दोषी! कही बड़ी बात

पिछले साल पूर्व भारतीय और कर्नाटक के तेज गेंदाबज डोडा गणेश (Dodda Ganesh) ने भी नस्लीय भेदभाव के अनुभव के बारे में बताया था.

Tags: BCCI, Cricket news, England, Laxman Sivaramakrishnan, Team india





Source link

L Sivaramakrishnan: ‘I have been colour discriminated all my life’

0


News

Former India legspinner was responding to a tweet on online trolling faced by cricket commentators

L Sivaramakrishnan, the former India legspinner, has said that he has been “colour discriminated” all his life.
Responding to a tweet on cricket commentators facing online trolling, 55-year-old Sivaramakrishnan wrote: “I have been criticised and colour discriminated all my life, so it doesn’t bother me anymore. This unfortunately happens in our own country.”
Sivaramakrishnan is not the first Indian cricketer to have spoken out publicly about discrimination. Opening batter Abhinav Mukund, who last played international cricket in 2017, has also spoken out on the issue in the past.

“I have been travelling a lot within and outside our country since I was 15. Ever since I was young, people’s obsession with my skin colour has always been a mystery to me,” Mukund had tweeted in August 2017. “Anyone who follows cricket would understand the obvious. I have played and trained day in and day out in the sun and not even once have I regretted the fact that I have tanned or lost a couple of shades.

“It is simply because I love what I do and I have been able to achieve certain things only because I have spent hours outdoors. I come from Chennai probably one of the hottest places in the country and I have gladly spent most of my adult life in the cricket ground.”

Racism in cricket has been a big matter of debate and discussion over the past year or so.

West Indian cricketers Daren Sammy and Chris Gayle were among the first active players to join a growing number of sports personalities around the world in publicly raising their voices against racism in the wake of George Floyd’s killing.
Since then, big steps have been taken in South African cricket to make anti-racism statements and, even at the recent T20 World Cup in the UAE, players from all the teams took part in making gestures in support of anti-racism movements around the world.
Across in England, the Azeem Rafiq allegations about racism at Yorkshire County Cricket Club, followed by a testimony before a parliamentary select committee, has forced the cricket establishment in the country to confront accusations of institutional racism.





Source link

IND vs NZ: विराट कोहली की वापसी पर कौन होगा टेस्ट टीम से बाहर? बल्लेबाजी कोच ने दिया जवाब

0


नई दिल्ली. दिग्गज विराट कोहली (Virat Kohli) को टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup-2021) के बाद से आराम दिया गया था और वह न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज और पहले टेस्ट मैच में नहीं खेले. न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच से टीम में वापसी करेंगे. उनकी वापसी पर कौन सा खिलाड़ी टीम से बाहर होगा, इस बारे में टीम इंडिया के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) से सवाल पूछा गया.

पूर्व ओपनर विक्रम राठौड़ रविवार को कोई निश्चित जवाब नहीं दे सके कि न्यूजीलैंड के खिलाफ अगले टेस्ट में कप्तान विराट कोहली के लौटने पर कौन सा खिलाड़ी प्लेइंग-XI से बाहर होगा. विक्रम राठौड़ ने कहा, ‘कप्तान वापसी कर रहे हैं, यह अगले मैच (मुंबई टेस्ट) में होगा. जब हम मुंबई पहुंचेंगे तो इस पर फैसला करेंगे. अभी ध्यान इस मैच पर है, इसमें एक दिन बचा है और मैच जीतना होगा. जब मुंबई पहुंचेंगे, तब इस पर बात करेंगे.’

इसे भी पढ़ें, श्रेयस अय्यर ने पारी देर से घोषित करने के लिए पिच को ठहराया दोषी! कही बड़ी बात

राठौड़ पूरी तरह समझते हैं कि चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) और अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ऐसे भारतीय खिलाड़ी हैं जो अपने टेस्ट करियर के अंतिम पड़ाव पर हैं. श्रेयस अय्यर के पदार्पण टेस्ट में 105 और 65 रन बनाने के बाद इस मुंबई के खिलाड़ी को बाहर नहीं रखा जा सकेगा जिससे जाहिर है राठौड़ को 3 दिसंबर से शुरू होने वाले मुंबई टेस्ट से पहले पुजारा और रहाणे की फॉर्म के बारे में सवालों का सामना करना पड़ा.

उन्होंने कहा, ‘निश्चित रूप से आप शीर्ष क्रम से योगदान चाहते हो लेकिन जिन क्रिकेटर (पुजारा और रहाणे) का आपने जिक्र किया, वे 80 (रहाणे 79) और 90 टेस्ट (पुजारा 91 टेस्ट) खेल चुके हैं.’ राठौड़ ने कार्यवाहक कप्तान रहाणे (19.57) के 20 से कम और उप कप्तान पुजारा के 30.42 के 2021 टेस्ट औसत का बचाव करते हुए कहा, ‘निश्चित रूप से इतने सारे मैच खेलकर उन्होंने हमारे लिए अच्छा किया होगा.’

इसे भी पढ़ें, टीम इंडिया मैच जीते या हारे, चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे में से एक का बाहर होना तय!

राठौड़ ने कहा, ‘हम समझते हैं कि दोनों इस समय खराब दौर (फॉर्म) से गुजर रहे हैं लेकिन हम समझते हैं कि बीते समय में वे हमारे लिए अहम पारियां खेल चुके हैं. हमें पूरा भरोसा है कि वे वापसी करेंगे और हमारे लिए महत्वपूर्ण पारियां खेलेंगे.’ एक खिलाड़ी को फॉर्म में वापसी के लिए कितने टेस्ट दिये जा सकते हैं 15 या 20? तो उन्होंने कहा कि इसके लिए संख्या निश्चित नहीं की जा सकती. उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि आप इसके लिए संख्या निश्चित कर सकते हो. यह निर्भर करता है कि किस स्थिति में है और टीम को क्या करने की जरूरत है.’

Tags: Ajinkya Rahane, Cheteshwar Pujara, Cricket news, Indian Cricket Team, Team India Captain, Vikram rathour, Virat Kohli





Source link

इंग्लिश बल्लेबाज ने 11 गेंद पर बना डाले 58 रन! क्रिस गेल के साथ मिलकर मचाया कोहराम

0


अबुधाबी. टीम अबुधाबी (Team Abu Dhabi) ने सोमवार को अबुधाबी टी10 में शानदार जीत दर्ज की. मैच में (Abu Dhabi T10) चेन्नई ब्रेव्स (Chennai Braves) को 107 रन बनाने के बाद भी बड़ी हार मिली. विकेटकीपर बल्लेबाज फिल सॉल्ट (Phil Salt) ने आक्रामक बल्लेबाजी करके टीम को छठी जीत दिलाई. टीम टेबल में टाॅप पर है. दूसरी ओर यह चेन्नई टीम की लगातार 8वीं हार है. वेस्टइंडीज के दिग्गज बल्लेबाज क्रिस गेल (Chris Gayle) ने भी आक्रामक पारी खेली.

मैच में चेन्नई ब्रेव्स को टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करने का मौका मिला. टीम ने निर्धारित 10 ओवर में 6 विकेट पर 107 रन का अच्छा स्कोर बनाया. टीम की ओर से अफगानिस्तान के ओपनर बल्लेबाज अहमद शहजाद (Mohammad Shahzad) ने अर्धशतकीय पारी खेली. उन्होंने 30 गेंद पर 53 रन बनाए. 4 चौके और 4 छक्के जड़े. अन्य कोई बल्लेबाज टिककर नहीं खेल सका. लियाम लिविंगस्टोन (Liam Livingstone) ने 2 ओवर में 17 रन देकर 3 विकेट झटके.

2 विकेट गिरने के बाद आया सॉल्ट का तूफान

लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम अबुधाबी की शुरुआत अच्छी नहीं रही. पॉल स्टर्लिंग 4 और लियाम लिविंगस्टोन सिर्फ एक रन बना सके. इसके बाद फिल सॉल्ट (Phil Salt) और क्रिस गेल (Chris Gayle) ने 71 रन की साझेदारी करके करके टीम की जीत पक्की कर दी. सॉल्ट ने 20 गेंद पर 63 रन बनाए. 7 छक्के और 4 चौके लगाए. यानी उन्हाेंने 58 रन तो सिर्फ बाउंड्री से बना दिए. 5 रन दौड़कर लिए.

यह भी पढ़ें: IND vs NZ: श्रेयस अय्यर ने पारी देर से घोषित करने के लिए पिच को ठहराया दोषी! कही बड़ी बात

यह भी पढ़ें: IND vs NZ: विल यंग को मिली अंपायर की गलती की ‘सजा’! नहीं थे आउट, फिर भी लौटना पड़ा पवेलियन, देखें Video

क्रिस गेल 16 गेंद पर 30 रन बनाकर नाबाद रहे. उन्होंने 2 छक्का और 2 चौका लगाया. टीम ने लक्ष्य को 7 ओवर में 3 विकेट पर हासिल कर लिया. इस तरह से टीम को 7 विकेट से बड़ी जीत मिली. नुवान प्रदीप ने 2 ओवर में 46 रन दिए. उन्होंने पहले ही ओवर में 27 रन दे दिए थे. सॉल्ट ने 2 छक्के और 2 चौके जड़े.

Tags: Abu Dhabi T10 League, Chris gayle, Cricket news, England, T10 League, West indies





Source link