On This Day: गांगुली के ‘पंजे’ के आगे पस्त हो गया था पाकिस्तान, यहीं से हुई ‘दादागिरी’ की शुरुआत

0
42


नई दिल्ली. 18 सितंबर, 1997 का दिन भारतीय क्रिकेट जगत और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के लिए बेहद खास है. भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने अपने करियर में कई यादगार पारियां खेली हैं लेकिन 24 साल पहले टोरंटो के मैदान पर पहली बार उन्होंने गेंदबाजी में कमाल दिखाया था. भारत और पाकिस्तान (India vs England) के बीच कनाडा के टोरंटो में 5 वनडे मैचों की सीरीज का आयोजन हुआ था जिसे सहारा कप के नाम से जाना है. सहारा कप के पहले आयोजन (1996) में पाकिस्तान ने भारत को पटखनी दी थी लेकिन एक साल के अंदर ही गांगुली की बदौलत टीम इंडिया ने हिसाब चुकता कर लिया. इसी सीरीज में गांगुली को नया नाम ‘प्रिंस ऑफ कोलकाता मिला’. इस सीरीज में दादा लगातार चार मैन ऑफ द मैच के खिताब जीते थे.

इस सीरीज में भारतीय टीम की कप्तानी सचिन तेंदुलकर कर रहे थे. भारतीय टीम सीरीज से पहले अपने 8 में से 7 मुकाबले हार कर टोरंटो पहुंची थी. हालांकि पहले ही मुकाबले में भारत ने अजय जडेजा और मोहम्मद अजहरूद्दीन की पारियों बदौलत पाकिस्तान को 20 रन से हराया. भारत ने 208 रन बनाए. लेकिन पाकिस्तान की टीम 188 रन बनाकर आउट हो गई. दूसरे मुकाबले में भारत ने पाकिस्तान को सिर्फ 116 रनों पर समेट दिया. गांगुली ने दो विकेट लेने के अलावा 32 रनों की पारी खेली. यहीं से ये पूरी सीरीज सौरव गांगुली वर्सेज पाकिस्तान बन गई.

सौरव गांगुली ने 5 विकेट लेकर मचाया तहलका
तीसरे मुकाबला 18 सितंबर को खेला गया जिसमें सौरव गांगुली ने अपने वनडे करियर की बेस्ट गेंदबाजी की. भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 182 रन बनाए. जवाब में पाकिस्तान का स्कोर 79 रनों पर एक विकेट था और ऐसा लग रहा था कि भारत यह मैच आसानी से हार जाएगा. यहां दादा की करिश्माई गेंदबाजी ने मैच का रुख और भारत की किस्मत पलट दी. गांगुली ने एजाज अहमद, सलीम मलिक, हसन राजा, मोईन अली और आकिब जावेद का विकेट झटककर मैच भारत की झोली में डाल दी. भारत ने पाकिस्तान को 34 रनों से हराया. गांगुली ने 10 ओवर में 16 रन देकर 5 विकेट लिए और तीन मेडन भी डाले थे.

यह भी पढ़ें:

IPL 2021: किस खिलाड़ी ने छोड़ा आईपीएल और कौन जुड़ा, ये हैं सभी 8 टीमों का Full Squad

ECB को नहीं होगा 1 रुपए का भी नुकसान, सूद समेत मिलेगा पैसा; कोच रवि शास्त्री ने बताई वजह

इस सीरीज में गांगुली ने 222 रन बनाने के साथ ही 15 विकेट लिए और मैन ऑफ द टूर्नामेंट रहे. सचिन तेंदुलकर की कप्तानी में टीम इंडिया ने सहारा कप के दूसरे आयोजन में पाकिस्तान को 4-1 से शिकस्त दी थी. दूसरी तरफ इस हार से तिलमिलाए पाकिस्तान ने रमीज रजा को तुरंत कप्तानी से हटा दिया था.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here