INDW vs AUSW: स्मृति मंधाना 3 महीने से अपने बैग में पिंक बॉल लेकर घूम रही थी, बताई दिलचस्प वजह

0
53

[ad_1]

नई दिल्ली. भारतीय टीम की सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) ने डे-नाइट टेस्ट में उपयोग की जाने वाली गुलाबी गेंद को पिछले 3 महीनों से अपने किट बैग में लेकर चल रही थी. मंधाना को गुलाबी गेंद से अभ्यास का तो अधिक मौका नहीं मिला लेकिन उससे परिचय का फायदा जरूर मिला. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के खिलाफ ऐतिहासिक डे-नाइट टेस्ट के पहले दिन नाबाद 80 रन बनाये हैं. मंधाना ने अपने टेस्ट करियर का सर्वोच्च स्कोर बनाया जिससे भारतीय महिला टीम ने एक विकेट पर 132 रन बनाये हैं.

मंधाना ने पहले दिन का खेल समाप्त होने के बाद कहा, ‘‘हमने केवल दो सीजन में गुलाबी गेंद से अभ्यास किया. मैं हंड्रेड (इंग्लैंड) में खेलकर आयी थी और मुझे गुलाबी गेंद से खेलने का अधिक मौका नहीं मिला था लेकिन हंड्रेड के दौरान मैंने गुलाबी कूकाबूरा गेंद मंगायी. मैंने उसे अपने कमरे में रखा क्योंकि मैं जानती थी कि हम डे-नाइट टेस्ट मैच में खेलेंगे और इसलिए मैं गेंद देखकर उसे समझना चाहती थी.’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने वास्तव में इससे बल्लेबाजी नहीं की. मैंने केवल दो सीजन में इससे बल्लेबाजी की लेकिन पिछले ढाई-तीन महीने से गुलाबी गेंद मेरे किट बैग में थी. मैं नहीं जानती कि मैंने उसे क्यों रखा हुआ था. मुझे अभ्यास के लिये समय मिलने की उम्मीद थी लेकिन ऐसा नहीं हो पाया.’’ गुलाबी गेंद से खेले जा रहे टेस्ट मैच की तैयारियों के बारे में मंधाना ने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि हमें इसको लेकर काम करने का अधिक समय मिला. हम केवल कोशिश कर रहे हैं. बाहर बैठे लोगों ने मेरा दिन भर उत्साह बनाये रखा. उससे मदद मिली.’’

IPL में रिकॉर्ड 11वीं बार प्लेऑफ में पहुंची चेन्नई सुपर किंग्स, एमएस धोनी का छलका दर्द

भारतीय सलामी बल्लेबाज ने कहा कि उन्होंने केवल गेंद का अच्छी तरह से आकलन करके अपने शॉट खेले. उन्होंने कहा, ‘‘मैं स्कोर बोर्ड नहीं देखना चाहती थी और मैंने खुले मन से खेलने का प्रयास किया. गेंद का आकलन करके उसे उसी हिसाब से खेला. मैंने वास्तव में कोई रणनीति नहीं बनायी थी.’’

CSK vs SRH Highlights: धोनी ने फिर लगाया विजयी छक्का, प्लेऑफ में पहुंचा चेन्नई सुपर किंग्स

मंधाना शतक के बारे में भी नहीं सोच रही हैं. वह केवल क्रीज पर टिके रहने और टीम को मजबूत स्कोर तक पहुंचाने में मदद करने पर ध्यान दे रही है. उन्होंने कहा, ‘‘अभी मैं शतक के बारे में नहीं सोच रही हूं. टीम के लिये अभी जरूरी है कि मैं क्रीज पर टिकी रहूं. मेरा ध्यान केवल गेंद पर उसे अच्छी तरह से खेलने पर है.”

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here