क्रिकेट के बाद टेनिस खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया ने दिया बड़ा झटका, देश में आने के लिए पूरी करनी होगी शर्त

0
81

[ad_1]

लंदन. एशेज सीरीज (Ashes Series) के बाद टेनिस ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open) को लेकर बड़ी खबर आ रही है. दोनों इवेंट में उतरने वाले खिलाड़ियों को नवंबर के अंत तक कोरोना की दोनों वैक्सीन लगवानी होगी. नहीं तो उन्हें ऑस्ट्रेलिया में आने की अनुमति नहीं दी जाएगी. विक्टोरिया सरकार की ओर से इस संबंध में आदेश जारी किया गया है. इंग्लैंड के कई खिलाड़ी पहले ही कड़े क्वारंटाइन नियम के कारण एशेज से हटने की बात कह चुके हैं. अब टेनिस खिलाड़ियों को भी किसी तरह की छू नहीं मिलेगी.

टेलीग्राफ की खबर के अनुसार, इस आदेश के जनवरी से पहले खत्म होने की उम्मीद कम है. ऐसे में बॉक्सिंग डे-टेस्ट और ऑस्ट्रेलियन ओपन में उतरने वाले खिलाड़ियों के लिए वैक्सीन जरूरी है. विक्टोरिया के प्रमुख डेनियल एंड्रज ने कहा कि कोरोना के डेल्टा वैरिएंट को देखते हुए इंग्लैंड के खिलाड़ियों को छूट देने की संभावना कम है. ऐसे में उन्हें वैक्सीन का दोनों डोज लगवाना ही होगा.

जोकोविच कर चुके हैं विरोध

नंबर-1 और 9 बार ऑस्ट्रेलियन ओपन का खिताब जीतने वाले सर्बिया के टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) सहित कई बड़े खिलाड़ी वैक्सीन के खिलाफ रहे हैं. ब्रिटेन की टेनिस खिलाड़ी जोहाना कोंटा भी टीके के खिलाफ रही हैं. हालांकि वे विंबलडन और टोक्यो ओलंपिक में नहीं उतरी थीं. डेनियल एंड्रज ने कहा कि अत्यधिक संक्रामक डेल्टा वैरिएंट को रोकने के उपाय के तौर पर इसे लागू किया गया है.

कोरोना के 1100 से अधिक मामले

विक्टोरिया में कोरोना के 1100 से अधिक मामले हैं. इस कारण कड़े प्रतिबंध लागू किए गए हैं. यहां के कर्मचारियों को पहला टीका 15 अक्टूबर तक जबकि दूसरा टीका 26 नवंबर तक लगवाना होगा. अन्यथा उन्हें काम करने से रोक दिया जाएगा. हालांकि ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान टिम पेन ने कहा है कि सख्त नियमों और इंग्लिश कप्तान जो रूट के विरोध के बाद भी एशेज सीरीज होने की उम्मीद है. उन्हाेंने कहा कि पहला टेस्ट 8 दिसंबर से शुरू होगा, भले रूट हो ना हों.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here