IPL 2021: प्लेऑफ से पहले CSK की कमजोरी सामने आई, ‘स्पेशल 3’ ने बढ़ाईं टीम की मुश्किलें

0
58

[ad_1]

नई दिल्ली. आईपीएल 2021 (IPL 2021) अब आखिरी हफ्ते में पहुंच गया है. आज लीग स्टेज के आखिरी दो मैच खेले जाएंगे. इसके बाद प्लेऑफ (IPL 2021 Playoffs) की जंग शुरू होगी. हालांकि, इससे पहले ही चेन्नई के सामने मुश्किलें खड़ी होती नजर आ रही हैं. महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की अगुवाई वाली सीएसके ने आईपीएल 2021 के दूसरे हाफ की शानदार शुरुआत की थी. टीम ने लगातार 4 मैच जीते थे. लेकिन चेन्नई जीत के इस सिलसिले को बरकरार रखने में चूक गई और पिछले तीनों मैच में टीम को हार का सामना करना पड़ा.

चेन्नई की इस नाकामी की वजह टीम के मध्यक्रम के बल्लेबाजों का फीका प्रदर्शन है. इस सीजन में धोनी, सुरेश रैना और अंबाती रायुडु बल्ले से कुछ खास योगदान नहीं दे पाए हैं. पिछले 3 मैच में टीम को हार के रूप में इसका खामियाजा उठाना पड़ा है. पंजाब किंग्स के खिलाफ एक दिन पहले हुए मैच की ही अगर बात करें, तो इस मैच में रायुडु ने 4 और धोनी ने 12 रन बनाए.

रैना की जगह खेल रहे रॉबिन उथप्पा का बल्ला भी खामोश रहा और वो भी सिर्फ 2 रन ही बना सके. इसी वजह से पहले बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई 20 ओवर में सिर्फ 134 रन बना सकी. इस लक्ष्य को पंजाब ने केएल राहुल (98*) की तूफानी पारी के दम पर 4 विकेट खोकर हासिल कर लिया.

सीएसके का मिडिल ऑर्डर रन नहीं बना रहा
इससे पहले जिन दो मुकाबलों में चेन्नई को हार का सामना करना पड़ा. उसमें भी धोनी, रैना और रायुडु के बल्ले से रन नहीं निकले. 2 अक्टूबर को राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ हुए मैच में चेन्नई को 7 विकेट से शिकस्त झेलनी पड़ी थी. इस मैच में रैना और रायुडु ने मिलकर 5 रन बनाए थे. धोनी को बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला था. वहीं, 4 अक्टूबर को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ हुए मैच में धोनी ने सिर्फ 18 रन बनाए थे.

आईपीएल 2021 में धोनी और रैना का बल्ला खामोश रहा
धोनी कप्तानी में भले ही सफल नजर आ रहे हों. लेकिन आईपीएल 2021 में बल्ले से उनका प्रदर्शन खराब रहा है. वो 14 मैच में 13.71 के औसत से सिर्फ 96 रन बना पाए हैं. उन्होंने सिर्फ 9 चौके लगाए हैं. रैना का भी यही हाल रहा. उन्होंने 12 मैच में 17.77 के औसत से 160 रन बनाए हैं. पूरे सीजन में रैना ने सिर्फ 13 चौके लगाए हैं. रायुडु ने इन दोनों के मुकाबले ज्यादा रन बनाए हैं. उन्होंने इस सीजन के 14 मैच में 256 रन ठोके हैं. दो अर्धशतक भी लगाए हैं. हालांकि, वो कई अहम मौकों पर रन नहीं बना पाए हैं. यही वजह रही कि टीम को हार झेलनी पड़ी.

डुप्लेसी-गायकवाड़ की जोड़ी चमकी
इस सीजन में चेन्नई के अच्छे प्रदर्शन की सबसे बड़ी वजह फाफ डुप्लेसी और ऋतुराज गायकवाड़ की सलामी जोड़ी है. इस जोड़ी ने इस सीजन में पहले विकेट के लिए 2 बार 100 से ज्यादा और 4 बार 50 या उससे ज्यादा रन की पार्टनरशिप की है. इन दोनों बल्लेबाजों ने इस सीजन में 500 से ज्यादा रन बनाए हैं.

यह भी पढ़ें: IPL 2021: राहुल ने डुप्लेसी-गायकवाड़ को पछाड़ ऑरेंज कैप पर कब्जा जमाया, तोड़ा वॉर्नर-गेल का रिकॉर्ड

IPL 2021, Point Table: दिल्‍ली कैपिटल्‍स बनी टॉपर, चौथे स्‍थान के लिए दिलचस्‍प हुआ मुकाबला

सीएसके पटरी पर लौट आएगी: फ्लेमिंग
अब चेन्नई को प्लेऑफ में उतरना है और इससे पहले इस कमजोरी को दूर करना होगा. टीम के मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग भी लगातार 3 मैच गंवाने के बाद थोड़ा चिंतित हैं. उन्होंने पंजाब किंग्स के खिलाफ मुकाबले में मिली हार के बाद कहा कि आप अगर लगातार 3 मैच गंवा दो तो आपको परेशान होना चाहिए. पहले बल्लेबाजी करते हुए अलग-अलग वेन्यू पर विपक्षी टीम के सामने बड़ा लक्ष्य खड़ा करने की कोशिश करना थोड़ा पेचीदा रहा है. मैं आगे के लिये ज्यादा चिंतित नहीं हूं. क्योंकि हालात जल्दी बदल सकते हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here