T20 World Cup: खिलाड़ियों पर बायो-बबल नहीं पड़ेगा भारी, ICC ने तैयार किया खास प्लान

0
51

[ad_1]

नई दिल्ली. आईसीसी टी20 विश्व कप (T20 World Cup 2021) 17 अक्टूबर से शुरू होगा और फाइनल 14 नवंबर को खेला जाएगा. यानी टूर्नामेंट कुल 29 दिन चलेगा. इस दौरान सभी टीमों को बायो-बबल में रहना होगा. जो खिलाड़ियों के लिए किसी चुनौती से कम नहीं होगा. खासतौर पर उनके लिए जो बीते कुछ महीनों से लगातार बायो-बबल (ICC Bio Bubble Norm) का हिस्सा बने हुए हैं. आईसीसी की भी खिलाड़ियों की इस तकलीफ के बारे में पता है. इसलिए खास प्लान तैयार किया है. ताकि किसी पर भी बायो-बबल (bio bubble Fatigue) से होने वाली थकान हावी ना हो और खिलाड़ी सिर्फ खेल पर ध्यान लगा सकें.

टी20 विश्व कप के दौरान खिलाड़ियों के मानसिक स्वास्थ्य और बायो-बबल से होने वाली थकान से जुड़े मसलों से निपटने के लिये आईसीसी मनोवैज्ञानिकों की सेवाएं लेगी. इसके लिए 24 घंटे मनोवैज्ञानिक मौजूद रहेंगे, जो मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े मुद्दे पर खिलाड़ियों की काउंसिलिंग करेंगे.

मानसिक स्वास्थ्य सबसे जरूरी: आईसीसी
आईसीसी की इंटीग्रिटी यूनिट के प्रमुख एलेक्स मार्शल ने कहा कि कई खिलाड़ी अलग-अलग बायो-बबल में रहने के बाद टी20 विश्व कप के लिए आ रहे हैं. ऐसे में उनके लिए नए बायो-बबल का हिस्सा बनना आसान नहीं होगा. हमें यह स्वीकार करना होगा कि नियंत्रित वातावरण में उनका मानसिक स्वास्थ्य प्रभावित होगा. इसलिए आईसीसी ने 24 घंटे एक मनोवैज्ञानिक तैनात रखने का फैसला किया है. ताकि खिलाड़ी जरूरत पड़ने पर उनसे सलाह ले सकें.

खिलाड़ियों के लिए 24 घंटे मनौवैज्ञानिक उपलब्ध रहेंगे
मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े मामलों से निपटने के दौरान, आईसीसी ने यह भी सुनिश्चित किया है कि खिलाड़ी हर वक्त बायो-बबल के भीतर ही नहीं रहे. वो बाहर जाकर अपना मनोरंजन कर सकें. इसका भी इंतजाम किया गया है. खिलाड़ी गोल्फ खेल सकेंगे. लेकिन यह भी नियंत्रित वातावरण में ही होगा. खिलाड़ियों के गोल्फ कोर्स का बड़ा हिस्सा पहले से ही आरक्षित होगा. ताकि कोरोना संक्रमण के खतरे को नियंत्रित रखा जा सके.

T20 World Cup से पहले पाकिस्तान की नापाक करतूत!, टीम की जर्सी से भारत का नाम गायब

खिलाड़ी बायो-बबल में परिवार के साथ रह सकेंगे
मार्शल ने कहा कि परिवार के सदस्यों के रहने से खिलाड़ियों पर तनाव कम होगा. इसलिए हमने सिर्फ करीबी सदस्यों को बायो-बबल में खिलाड़ियों के साथ रहने की अनुमति दी है. कुछ ही टीमों के खिलाड़ी अपने परिवार के सदस्यों को साथ लाएंगे. इसमें टीम इंडिया भी शामिल होगी. क्योंकि भारत के ज्यादातर खिलाड़ी इस वक्त आईपीएल खेल रहे हैं और उनका परिवार पहले से ही यूएई में मौजूद है.

T20 World Cup: खिलाड़ियों के 6 दिन में होंगे 3 कोरोना टेस्ट, जानिए संक्रमित होने पर क्या होगा?

आईसीसी के इंटीग्रिटी प्रमुख ने आगे कहा कि खिलाड़ियों के परिवार वालों को भी 6 दिन आइसोलेशन में रहना होगा और कोरोना की 3 टेस्ट की रिपोर्ट निगेटिव होने के बाद ही उन्हें बबल में एंट्री करने की इजाजत दी जाएगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here