IPL 2021: चेन्नई से क्वालिफायर मैच में दिल्ली कैपिटल्स से आखिर कहां हुई चूक? ऋषभ पंत ने बताई वजह

0
57

[ad_1]

नई दिल्ली. गत उप-विजेता दिल्ली कैपिटल्स को IPL-2021 के पहले क्वालिफायर में रविवार को चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ हार झेलनी पड़ी. महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली टीम चेन्नई ने दुबई में 4 विकेट से जीत दर्ज करते हुए इंडियन प्रीमियर लीग के फाइनल में प्रवेश कर लिया. दिल्ली के कप्तान ऋषभ पंत (Rishabh Pant) इस हार से बेहद निराश नजर आए. उन्होंने मैच के बाद हार के कारणों पर भी चर्चा की. पंत ने इस मैच में अर्धशतक जड़ा और 51 रन बनाकर नाबाद लौटे. दिल्ली ने मैच में 20 ओवर में 5 विकेट पर 172 रन बनाए जिसके बाद चेन्नई ने 2 गेंद बाकी रहते 6 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया.

चेन्नई को अंतिम ओवर में जीत के लिए 13 रन की जरूरत थी लेकिन टॉम करेन (Tom Curran) ने 4 गेंदों पर ही इतने रन दे दिए. करेन ने ओवर की पहली गेंद पर मोईन अली (16) को रबाडा के हाथों कैच कराया. फिर धोनी ने अगली दोनों गेंदों को चौके के लिए भेजा जिसके बाद करेन ने वाइड फेंकी और अगली गेंद पर धोनी ने विजयी चौका लगा दिया. धोनी ने एक बार फिर फिनिशिर की भूमिका निभाई और अंत में 6 गेंदों में एक छक्के और 3 चौकों से नाबाद 18 रन बनाकर 2 गेंद रहते जीत दिलाई. उनसे पहले ऋतुराज गायकवाड़ (70) और रॉबिन उथप्पा (63) ने अर्धशतकीय पारियां खेलकर दूसरे विकेट के लिए 110 रन की साझेदारी निभाई.

इसे भी पढ़ें, ऋषभ पंत क्वालिफायर-1 में हारे टॉस लेकिन मैदान पर उतरते ही बना दिया रिकॉर्ड

दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान ऋषभ पंत ने करीबी हार के बाद कहा, ‘निश्चित रूप से यह बहुत ही निराशाजनक हार थी और मेरे पास शब्द नहीं है कि मैं इस (अंतिम ओवर में फैसले की) निराशा को बयां कर सकूं. मुझे लगा कि टॉम करेन ने इस मैच में बेहतरीन गेंदबाजी की है तो उन्हें अंतिम ओवर देना सही रहेगा. चेन्नई ने पावरप्ले में अच्छा स्कोर बना लिया था और हमें पर्याप्त विकेट नहीं मिले. हमने एक अच्छा स्कोर खड़ा किया था. हम अगले मैच में अपनी गलतियों की सुधारने की पूरी कोशिश करेंगे ताकि फाइनल तक पहुंच सकें.’

धोनी ने मैच के बाद कहा, ‘मेरी पारी अहम रही. दिल्ली कैपिटल्स का गेंदबाजी आक्रमण अच्छा है. उन्होंने परिस्थितियों का पूरा फायदा उठाया. इसलिए हम जानते थे कि यह मैच हमारे लिए आसान नहीं रहने वाला था.’ अपनी पारी के बारे में धोनी ने कहा, ‘मैंने टूर्नामेंट में ज्यादा अच्छी पारियां नहीं खेली हैं लेकिन मैं गेंद को देखकर खेलना चाहता था. मैं नेट पर अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था लेकिन ज्यादा नहीं सोच रहा था क्योंकि अगर आप बल्लेबाजी करते हुए ज्यादा सोचते हो तो अपनी रणनीति खराब कर देते हो.’

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here