विराट कोहली के टी20 फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ने के फैसले में बीसीसीआई से नहीं था कोई दबाव : सौरव गांगुली

0
41

[ad_1]

नई दिल्ली. धुरंधर बल्लेबाज विराट कोहली (Virat Kohli) अपनी कप्तानी में आखिरी बार टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) खेलेंगे. भारतीय टीम इस वैश्विक टूर्नामेंट में अपने अभियान का आगाज चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ (IND vs PAK) मुकाबले से करेगी, जो दुबई में 24 अक्टूबर को खेला जाएगा. विराट ने जब टी20 वर्ल्डकप से ठीक पहले इस फॉर्मेट में कप्तानी छोड़ने का ऐलान किया, तो हर कोई हैरान हो गया था. अब बीसीसीआई के अध्यक्ष और टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने कहा है कि वह भी विराट कोहली के फैसले से एकदम हैरान हो गए थे.

टीम इंडिया के सबसे सफल कप्तानों में शुमार गांगुली ने कहा कि विराट और उनके बीच इस मसले को लेकर किसी तरह की कोई बातचीत लंबे वक्त से नहीं हुई थी. उन्होंने साथ ही कहा कि विराट के इस फैसले में भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) की तरफ से कोई दबाव नहीं था, यह पूरी तरह से उनका ही फैसला था.

गांगुली ने आज तक से कहा, ‘इंग्लैंड के दौरे के बाद ही विराट ने टी20 फॉर्मेट में कप्तानी छोड़ने का फैसला किया था. यह पूरी तरह से उनका ही फैसला था. हमारी या बोर्ड की तरफ से किसी तरह का दबाव नहीं बनाया गया था. इस तरह के फैसले में बोर्ड कोई दबाव ना ही बनाता है, खिलाड़ी पर किसी तरह का दवाब नहीं डाला जाता है. यह पूरी तरह से विराट का फैसला था.’

49 वर्षीय गांगुली ने साथ ही कहा कि मौजूदा दौर में खिलाड़ी अलग-अलग फॉर्मेट में खेलते हैं, तो उन पर अच्छे प्रदर्शन का दवाब होता ही है. उन्होंने कहा, ‘भारत की कप्तानी का भी अलग दबाव रहता है. यह कोई आसान काम नहीं है. अलग-अलग फॉर्मेट में खेलते हैं तो सभी से काफी उम्मीदें भी रहती हैं.’ विराट के बल्ले से पिछले 2 साल से कोई शतक नहीं निकला है, लेकिन गांगुली ने कहा कि वह भी एक इंसान हैं, कोई मशीन नहीं हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here