2 नई IPL टीम जुड़ने से BCCI हो जाएगी मालामाल, मिल सकते हैं 20 हजार करोड़

0
51

[ad_1]

नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई 2 नई आईपीएल टीमें जुड़ने (IPL New Teams Auction) के बाद मालामाल हो जाएगी. बीसीसीआई को एक नई फ्रेंचाइजी से 7 से 10 हजार करोड़ रुपए मिलने की उम्मीद है. इस हिसाब से दो नई टीमों की नीलामी से बीसीसीआई के खजाने में 20 हजार करोड़ रुपए आ सकते हैं. इसके लिए अगले हफ्ते से बोली प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. हालांकि, अब तक यह साफ नहीं हो पाया है कि बीसीसीआई सोमवार को ही तकनीकी मल्यांकन करने के बाद सफल बोली लगाने वालों की घोषणा करेगी या नहीं.

अब तक 22 अलग-अलग कंपनियों ने बोली लगाने के लिए 10 लाख रुपए में टेंडर डॉक्यूमेंट खरीदे हैं. हालांकि, 2 नई टीमों के लिए बीसीसीआई ने बेस प्राइस 2 हजार करोड़ रुपए रखी है. ऐसे में 22 में चुनिंदा 5-6 कंपनियां भी आखिरी दौर में टीमों की खरीदने की रेस में रहेंगी.

बीसीसीआई ने नई फ्रेंचाइजी के लिए बोली लगाने के लिए तीन कंपनियों/व्यक्तियों के एक संघ को भी अनुमति दी है. हालांकि, किसी व्यक्ति या कंपनी के मामले में, उस विशेष इकाई का सालाना टर्नओवर कम से कम 3 हजार करोड़ रुपए होना जरूरी है और कंपनियों के समूहों के मामले में अलग से हर कंपनी का सालाना टर्नओवर 2500 करोड़ रुपए का होना चाहिए. ऐसे में भारत के सबसे रईस उद्योगपतियों में से एक गौतम अडानी और उनकी कंपनी अडानी ग्रुप अहमदाबाद फ्रेंचाइजी के लिए बोली लगाने की उम्मीद है.

अहमदाबाद फ्रेंचाइजी के लिए अडानी समूह ने दिखाई दिलचस्पी
अगर अडानी समूह बोली लगाता है, तो अहमदाबाद फ्रेंचाइजी खरीदने की रेस में वो सबसे आगे होंगे. ठीक इसी तरह, आरपीएसजी ग्रुप के मालिक संजीव गोयनका भी नई फ्रेंचाइजी के लिए बोली लगा सकते हैं. हालांकि, यह अब तक साफ नहीं हो पाया है कि आरपीएसजी ग्रुप अकेले बोली लगाएगी या कंपनियों के समूह के साथ उतरेगी.

IND vs PAK: भारत-पाकिस्तान के 2 खिलाडी वर्ल्‍ड कप 2007 में खेले और आज भी खेलेंगे, क्या आप जानते हैं नाम?

एक फ्रेंचाइजी 10 हजार करोड़ में बिक सकती है
गौतम अडानी और संजीव गोयनका भारतीय उद्योग में सबसे बड़े नाम हैं. वे दो नई फ्रेंचाइजी को खरीदने के लिए गंभीर हैं. जिस तरह से आईपीएल के ब्रॉडकास्ट राइट्स के 36 हजार करोड़ रुपए में बिकने की उम्मीद जताई जा रही है. उसे देखते हुए नई फ्रेंचाइजी की कीमत 3500 हजार करोड़ रुपए तक जा सकती है. घटनाक्रम पर नजर रखने वाले बीसीसीआई के एक अंदरूनी सूत्र ने नाम न छापने की शर्त पर पीटीआई-भाषा को बताया कि फ्रेंचाइजी को टीवी राजस्व का हिस्सा समान रूप से मिलता है. इसलिए अर्थशास्त्र उसी के मुताबिक काम करेगा.

कई फार्मा कंपनियां भी आईपीएल टीम खरीदने की रेस में
अडानी और आरपीएसजी ग्रुप के अलावा ऐसी चर्चा है कि मैनचेस्टर यूनाइटेड के मालिक अवराम ग्लेज़र के स्वामित्व वाले लांसर समूह ने भी टेंडर डॉक्यूमेंट खरीदे हैं और यह ग्रुप भी नई फ्रेंचाइजी खरीदने में दिलचस्पी दिखाई है. इसके अलावा कोटक ग्रुप, अरबिंदो फार्मा और टोरेंट ग्रुप भी रेस में हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here