IPL 2022 Team Auction: लखनऊ टीम के मालिक हैं संजीव गोयनका, 7090 करोड़ रुपये में खरीदी फ्रेंचाइजी

0
20

[ad_1]

नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग 2022 (IPL 2022) के लिए दो नई टीमों का ऐलान हो गया है. आरपी-एसजी समूह (RP Sanjiv Goenka Group) और सीवीसी कैपिटल्स (CVC Capital) ने आईपीएल के टीम ऑक्शन में बोली जीतकर अपनी-अपनी टीम खरीद ली हैं. आरपी-एसजी समूह ने 7000 करोड़ रुपये से ज्यादा की बोली लगाकर लखनऊ की फ्रेंचाइजी (Lucknow Franchise) खरीदी है. वहीं, दूसरी तरफ अंतरराष्ट्रीय इक्विटी निवेश फर्म सीवीसी कैपिटल ने अहमदाबाद फ्रेंचाइजी (Ahmedabad Franchise) 5600 करोड़ रुपये की बोली लगाकर अपने नाम की. आरपी-एसजी समूह कोलकाता के दिग्गज उद्योगपति संजीव गोयनका (Sanjiv Goenka) की कंपनी है और उन्होंने 7090 करोड़ रुपये में लखनऊ फ्रेंचाइजी खरीदी है.

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) को 2022 से आईपीएल में हिस्सा लेने वाली दो नई टीमों से 10 हजार करोड़ रुपये के आसपास मिलने की उम्मीद थी, लेकिन उसे 12,690 करोड़ रुपये की कमाई हुई है. इससे पहले आईपीएल में दो साल 2016 और 2017 में संजीव गोयनका के पास राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स का स्वामित्व था. संजीव गोयनका ने आजतक को दिए इंटरव्यू में कहा कि आरपीएसजी ने 7090 करोड़ रुपये की सर्वाधिक बोली लगाई थी. दरअसल, 2008 के आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स को 70 मिलियन डॉलर में खरीदा गया था और आईपीएल 2022 में लखनऊ की टीम को लगभग 1 बिलियन डॉलर में खरीदा गया है.

IND vs PAK: मोहम्मद शमी को बुरा-भला करने वालों पर बरसे सहवाग-इरफान, बोले- इसे रोकने की जरूरत

आरपीएसजी के मालिक संजीव गोयनका ने ईएसपीएनक्रिकइंफो को बताया, “आईपीएल में वापस आना अच्छा है और मैं खुश हूं. यह एक शुरुआती कदम है. हमें अब एक अच्छी टीम बनानी है और प्रदर्शन करना है.” वहीं, हर्ष गोयनका ने ट्वीट कर सभी टीमों की बोली सार्वजनिक रूप से बता दी है.

जब संजीव गोयनका से पूछा गया कि आपको उम्मीद थी कि इतनी ज्यादा बोली जाएगी? इस पर उन्होंने कहा, ”उम्मीद थी इसीलिए इतनी ज्यादा बोली लगाई.” गोयनका ने साथ ही बताया कि उन्होंने लखनऊ टीम को ही क्यों चुना. उन्होंने कहा, ”ग्रेटर नोएडा में हम पावर डिस्ट्रीब्यूट करते हैं. उत्तर प्रदेश में हमारे रिटेल स्टोर हैं. हम उस माहौल और मार्केट से वाकिफ हैं. हमें लगता है कि यह बहुत अच्छी मार्केट है.”

खिलाड़ी कौन से लेने हैं कप्तान कौन लेना है? इस सवाल का जवाब देते हुए संजीव गोयनका ने कहा, ”ये तो अब पता चलेगा कि बीसीसीआई की रिटेंशन पॉलिसी क्या होगी. कौन से खिलाड़ी उपलब्ध होंगे. कौन से रिटेन होंगे. उसके बाद ही आदमी फैसला ले सकता है.” यह टीम अब लखनऊ के भारत रत्न श्री अटल बिहारी वाजपेयी स्टेडियम में को अपना होम बनाएगी. यह स्टेडियम नवंबर 2018 में जनता के लिए खोला गया था और इसमें लगभग 50,000 लोग बैठ सकते है.

‘मिठाई बांट दीजिए खुशी का माहौल है…’ IPL टीम के नाम को लेकर अटकलें, लखनऊ यूनाइटेड बना ट्रेंड तो झूमे लोग

बता दें कि फ्रेंचाइजी को खरीदने की दौड़ में पिछड़ने वाली बड़ी कंपनियों में गौतम अडानी का अडानी समूह शामिल है, जिसने लगभग पांच हजार करोड़ रुपये की बोली लगाई थी. मैनचेस्टर यूनाईटेड का स्वामित्व रखने वाले ग्लेजर और टोरेंट समूह की बोली भी शीर्ष दो बोली में शामिल नहीं रहीं. 22 कंपनियों ने 10 लाख रुपये का निविदा दस्तावेज खरीदा था, लेकिन नई टीमों का आधार मूल्य दो हजार करोड़ रुपये होने के कारण सिर्फ पांच या छह गंभीर दावेदार ही दौड़ में थे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here