T20 World Cup: यूएई में लगातार 7 मैच हार चुकी है वर्ल्ड चैंपियन वेस्टइंडीज, बांग्लादेश के खिलाफ अब आखिरी मौका

0
29

[ad_1]

नई दिल्ली. लगातार दो हार से त्रस्त मौजूदा चैंपियन वेस्टइंडीज और बांग्लादेश (West Indies vs Bangladesh) टी20 विश्व कप (T20 World Cup) के सुपर-12 के एक मैच में शुक्रवार को आमने सामने होंगे. दोनों टीमों के लिए यह मैच करो या मरो जैसा होगा क्योंकि इसमें हारने वाली टीम की सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें लगभग समाप्त हो जाएंगी. वेस्टइंडीज को जहां इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका से हार का सामना करना पड़ा वहीं बांग्लादेश को इंग्लैंड और श्रीलंका ने पराजित किया. ऐसे में सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें जीवंत रखने के लिये इन दोनों टीमों को अब जीत की दरकार है.

वेस्टइंडीज को बल्लेबाजी की अपनी कमजोरियों को दूर करने की जरूरत है. इंग्लैंड के खिलाफ उसकी टीम केवल 55 रन पर ढेर हो गयी. उसके सभी बल्लेबाजों ने अपने विकेट इनाम में दिये. उन्होंने धीमी पिच पर एक दो रन चुराने के बजाय बड़े शॉट खेलने पर ध्यान दिया. दो बार के चैंपियन ने इसके बाद दूसरे मैच में अपना रवैया थोड़ा बदला और लेंडल सिमंस को पारी संवारने का जिम्मा दिया लेकिन यह सलामी बल्लेबाज बेहद धीमा खेला. सिमंस ने 35 गेंदों पर 16 रन बनाये जिससे टीम पर दबाव बढ़ा. इस कारण एविन लुईस जैसे अन्य बल्लेबाजों को जोखिम भरे शॉट खेलकर अपने विकेट गंवाने पड़े.

जेसन होल्डर के टीम से जुड़ने से वेस्टइंडीज को मजबूती मिली
वेस्टइंडीज ने 11वें से 20वें ओवर के बीच 64 रन के अंदर आठ विकेट गंवाये और बड़ा स्कोर बनाने में नाकाम रहा. अगले मैच में सिमंस की जगह रोस्टन चेज को लिया जा सकता है जिन्होंने अफगानिस्तान के खिलाफ अभ्यास मैच में नाबाद 54 रन बनाये थे. वह उपयोगी गेंदबाज भी हैं और स्पिन विभाग में विकल्प मुहैया करा सकते हैं. जेसन होल्डर के टीम से जुड़ने से वेस्टइंडीज को मजबूती मिली है. होल्डर ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में बल्ले और गेंद दोनों से अच्छा प्रदर्शन किया था. यूएई की परिस्थितियां हालांकि वेस्टइंडीज के ‘बिग हिटर’ के अनुकूल नहीं हैं. उसने यहां जो पिछले सात मैच खेले हैं उनमें उसे जीत नहीं मिली. इनमें टूर्नामेंट से पहले के दोनों अभ्यास मैच भी शामिल हैं.

बांग्लादेश की टीम के प्रदर्शन में निरंतरता का अभाव
दूसरी तरह बांग्लादेश इस तरह के विकेटों पर खेलने का आदी है लेकिन वह इसका फायदा उठाने में नाकाम रहा है. न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसी टीमों को हराकर टूर्नामेंट में छठे रैंकिंग की टीम के रूप में प्रवेश करने वाली बांग्लादेश की टीम के प्रदर्शन में निरंतरता का अभाव रहा है. अपने पिछले पांच मैचों में से वह केवल दो में जीत दर्ज कर पाया. मोहम्मद नईम, लिटन दास, शाकिब अल हसन, महमुदुल्लाह और मुशफिकुर रहीम के रूप में बांग्लादेश के पास प्रतिभाशाली बल्लेबाज हैं लेकिन वे सामूहिक योगदान देने में असफल रहे हैं. उसकी गेंदबाजी में अनुशासन की कमी दिखी और उन्हें बेहतर प्रदर्शन करने की जरूरत है. वेस्टइंडीज के खिलाफ उसके स्पिनरों की भूमिका अहम होगी.

यह भी पढ़ें:

अफगानिस्तान के सामने होगी पाकिस्तान की असली परीक्षा, ये 5 अफगानी खिलाड़ी बेहद खतरनाक

दो बार की वर्ल्ड चैंपियन वेस्टइंडीज का हुआ बुरा हाल तो स्टार ऑलराउंडर को बुलाया

टीमें इस प्रकार हैं :

वेस्टइंडीज: कायरन पोलार्ड (कप्तान), निकोलस पूरन, ड्वेन ब्रावो, रोस्टन चेज, आंद्रे फ्लेचर, क्रिस गेल, शिमरोन हेटमायर, एविन लुईस, जैसन होल्डर, लेंडल सिमंस, रवि रामपॉल, आंद्रे रसेल, ओशेन थॉमस, हेडन वॉल्श जूनियर, अकील हुसैन.

बांग्लादेश: महमूदुल्लाह (कप्तान), लिटन दास, मोहम्मद नईम, महेदी हसन, शाकिब अल हसन, सौम्य सरकार, मुशफिकुर रहीम, नूरुल हसन, अफीफ हुसैन, नसुम अहमद, तस्कीन अहमद, शमीम हुसैन, मुस्तफिजुर रहमान, मोहम्मद सैफुद्दीन और शोरफुल इस्लाम.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here