T20 World Cup: पाकिस्तान T20 वर्ल्ड कप जीतने की राह पर, बाबर आजम की टीम में चैंपियन वाली सभी 5 खूबियां

0
49

[ad_1]

नई दिल्ली. क्रिकेट और किस्मत कब करवट बदल लें, कोई भरोसा नहीं. टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) में यह मुहावरा हर रोज आजमाया जा रहा है. भारतीय टीम (Team India) जो टूर्नामेंट से पहले हॉट फेवरेट थी, वह आज करो या मरो के फेर में फंसी है. वहीं, पाकिस्तान (Pakistan) जिसे टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) शुरू होने से पहले तक कोई भी ज्यादा भाव देने को तैयार नहीं था, वह विजयरथ पर सवार सेमीफाइनल की ओर निकल चुका है. बाबर आजम (Babar Azam) की कप्तानी वाली पाकिस्तानी टीम (Pakistan Cricket Team) में हर वो बात है, जो किसी चैंपियन टीम के लिए जरूरी है. यहां पर हम ऐसी 5 बातों का जिक्र कर रहे हैं, जो विश्व चैंपियन बनने के लिए जरूरी हैं और यह सभी पाकिस्तान की टीम में भी हैं.

दमदार ओपनिंग जोड़ी
पाकिस्तानी पारी की शुरुआत का जिम्मा कप्तान बाबर आजम (Babar Azam) खुद संभालते हैं. उनके जोड़ीदार होते हैं मोहम्मद रिजवान (Rizwan). यह जोड़ी अभी तक सुपरहिट रही है. दोनों ओपनर गजब की फॉर्म में हैं. बाबर 3 मैच में 128 और रिजवान इतने ही मैच में 120 रन बना चुके हैं. क्रिकेटप्रेमी भूले नहीं होंगे कि इन दोनों की बैटिंग की बदौलत ही पाकिस्तान ने भारत को 10 विकेट से हराया था. बाबर की पिछली तीन पारियां 68*, 9 और 51 रन की रही हैं. उनके नाम सबसे तेजी से 2000 टी20 रन बनाने का विश्व रिकॉर्ड है. रिजवान ने पिछली तीन पारियों में 79*, 33 और 8 रन बनाए हैं.

एक नहीं दो-दो फिनिशर
ओपनर किसी भी टीम को बेहतरीन शुरुआत देते हैं. बेहतरीन नींव रखते हैं. लेकिन अगर मध्यक्रम में भरोसेमंद बल्लेबाज नहीं हैं तो एक-दो मैच तो जीते जा सकते हैं, टूर्नामेंट नहीं. पाकिस्तान की खुशकिस्मती ही कही जा सकती है कि उसका मध्यक्रम ना सिर्फ फॉर्म में हैं, बल्कि उसके पास बेहतरीन फिनिशर भी हैं. वह भी एक नहीं, दो-दो. पाकिस्तान को अगर भारत के खिलाफ ओपनर बाबर और रिजवान ने जिताया तो न्यूजीलैंड और अफगानिस्तान के खिलाफ शोएब मलिक (Shoaib Malik) और आसिफ अली (Asif Ali) ने लक्ष्य तक पहुंचाया. आसिफ अली ने इस टूर्नामेंट में महज 19 गेंदों का सामना किया है और 7 छक्के जमा दिए हैं. मलिक न्यूजीलैंड के खिलाफ नाबाद लौटे और अफगानिस्तान के खिलाफ मैचविनिंग पार्टनरशिप कर पैवेलियन लौटे.

बेहतरीन ऑलराउंडर
इतिहास गवाह है कि बिना बेहतरीन ऑलराउंडर के कोई भी टीम विश्व कप नहीं जीत सकी है. बाबर आजम की पाकिस्तानी टीम इस टूर्नामेंट में 2 ऑलराउंडर के साथ मैदान पर उतर रही है. उसके पास इमाद वसीम (Imad Wasim) जैसा गेंदबाजी ऑलराउंडर है. बाएं हाथ के इस स्पिनर पर बाबर को कितना यकीन है, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने भारत के खिलाफ इमाद से ओपनिंग बॉलिंग करा दी थी. टीम के दूसरे ऑलराउंडर अनुभवी मोहम्मद हफीज (Mohammad Hafeez) हैं.

पावरफुल पेस अटैक
अगर किसी टीम को विश्व कप जैसा टूर्नामेंट जीतना है तो उसके पास नई गेंद से विकेट लेने वाले गेंदबाज होने चाहिए. शाहीन शाह अफरीदी (Shaheen Shah Afridi) इस समय पाकिस्तान के सबसे बेहतरीन तेज गेंदबाज हैं. ‘शहंशाह अफरीदी’ के नाम से लोकप्रिय इस गेंदबाज ने भारत के दोनों ओपनरों रोहित शर्मा और केएल राहुल को पहले ही स्पेल में आउट किया था. पावरफुल यॉर्कर, स्लोअर और स्विंग के जाने जाने वाले अफरीदी ने विराट कोहली को भी आउट किया था. लेकिन सिर्फ अफरीदी ही पाकिस्तान की ताकत नहीं हैं. अनुभवी हसन अली और जोशीले हैरिस रऊफ भी टीम की बड़ी ताकत हैं.

जीत का जज्बा
किसी भी टीम में चाहे जितनी प्रतिभा हो, अगर उसमें जीत की भूख नहीं है, खुद को साबित करने का जज्बा नहीं है तो फिर वह विश्व चैंपियन नहीं बन सकती. पाकिस्तान की टीम में इत्तफाक से जीत की भूख और खुद को साबित करने का जज्बा भी है. ज्यादातर विदेशी टीमें सुरक्षा कारणों से पाकिस्तान का दौरा नहीं करती हैं. पाकिस्तानी क्रिकेटरों की आईपीएल में भी एंट्री नहीं है. इन कारणों से पाक क्रिकेटर खुद को साबित करना चाहेंगे. प्रतिभाशाली और बेहतरीन टीम होने के बावजूद पाकिस्तानी क्रिकेटरों को आर्थिक असुरक्षा का सामना करना पड़ता है. पाकिस्तान टीम या क्रिकेट बोर्ड को बड़े स्पॉन्सर नहीं मिलते. पाक क्रिकेटरों को यह मालूम है कि विश्व कप जीतने से सूरत बदल सकती है.  टी20 विश्व कप में यह सब कारण पाकिस्तानी क्रिकेटरों को अपना बेस्ट प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित करेंगे.

इंग्लैंड से मिल रही कड़ी टक्कर
अगर पाकिस्तान में विश्व चैंपियन बनने वाली सभी बातें हैं, तो दूसरी टीमों को कमतर आंकना गलती होगी. खासकर इंग्लैंड को, जो पाकिस्तान की ही तरह विश्व चैंपियन बनने की हर हर खूबी अपने भीतर समेटे हुए है. विराट कोहली की अगुवाई वाली भारतीय टीम अगर न्यूजीलैंड को हराती है तो हर टीम उससे खौफ खाएगी. सही मायने में इन तीनों ही टीमों में विश्व चैंपियन बनने की खूबियां हैं. लेकिन वही बात, जो शुरू में कही थी. क्रिकेट और किस्मत कब मेहरबान हो जाय या कब रूठ जाय, यह कौन जाने. इसलिए क्रिकेट का मजा लीजिए जिसमें सारे समीकरण एक गेंद में पलट जाते हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here