विराट कोहली का बड़े टूर्नामेंट में डब्बा गोल, कप्तानी के मोर्चे पर धोनी हैं कोसों आगे, देखें रिकॉर्ड

0
72

[ad_1]

नई दिल्ली. टी-20 वर्ल्ड कप (ICC T20 World Cup) में दो करारी हार के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की जम कर आलोचना हो रही है. सेमीफ़ाइनल की दौड़ से टीम इंडिया लगभग बाहर हो गई है. अब शायद कोई चमत्कार ही उन्हें नॉकआउट स्टेज में पहुंचा सकता है. सवाल उठता है कि क्या विराट कोहली की कप्तानी के चक्कर में टीम इंडिया का ये हाल हुआ या फिर पूरी टीम ने लुटिया डुबो दी. इसको लेकर क्रिकेट एक्सपर्ट्स की अलग-अलग राय है. लेकिन आकड़ों के आईने में नज़र डालें तो वनडे और टी-20 के बड़े टूर्नामेंट में कप्तानी के मोर्चे पर विराट का डब्बा गोल है. महेंद्र सिंह धोनी तो उनसे कोसों आगे हैं.

कप्तानी के मोर्चे पर टी-20 में विराट कोहीली का ये आखिरी टूर्नामेंट है. वैसे वनडे में भी वो कप्तान बने रहेंगे या नहीं फिलहाल इसकी भी कोई गांरटी नहीं है. आईए एक नज़र डालते हैं कि विराट का वनडे और टी-20 के बड़े टूर्नामेंट में कप्तान के तौर पर कैसा प्रदर्शन रहा है.

टी-20 में विराट फेल, धोनी आगे
विराट पहली बार किसी बड़े टी-20 टूर्नामेंट में कप्तानी कर रहे है. और नतीजा आप सबके सामने है. दो मैचों में दो हार और टी-20 वर्ल्ड कप के सेमीफ़ाइन में पहुंचने के रास्ते लगभग खत्म. अगर धोनी से विराट की तुलना की जाए तो वो कहीं नहीं ठहरते. धोनी ने साल 2007 के पहले टी-20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया को चैंपियन बनाया. इसके अलावा धोनी ने साल 2014 के टी-20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया को फ़ाइनल तक पहुंचाया. फिर धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया 2016 के टी-20 वर्ल्ड कप के सेमीफ़ाइनल तक पहुंची.

वनडे में भी विराट फेल
वनडे के बड़े टूर्नामेंट में भी विराट कोहली का बुरा हाल है. उनकी कप्तानी में टीम इंडिया साल 2017 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में हार चुकी है. साल 2019 के वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का सफर सेमीफाइनल में खत्म हो गया था. लेकिन धोनी का वनडे के बड़े टूर्नामेंट में भी यादगार रिकॉर्ड रहा है. साल 2011 में धोनी ने 28 साल बाद टीम इंडिया को वर्ल्ड चैंपियन बनाया. धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया को 2013 के आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में जीत मिली.

ये भी पढ़ें:- T20 WC: सेमीफ़ाइनल की लड़ाई हुई दिलचस्प, 2 जगहों के लिए 5 टीमों के बीच टक्कर, टीम इंडिया भी रेस में

हर मोर्चे पर धोनी आगे
वनडे, टी-20 और टेस्ट के ओवरऑर रिकॉर्ड पर नज़र डालें तो यहां भी धोनी का ही पलड़ा भारी है. धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया को 178 इंटरनेशनल मैचों में जीत मिली है. जबकि विराट की कप्तानी में टीम इंडिया को 130 मैचों में जीत मिली है. इससे ये साबित होता है कि विराट बड़े टूर्नामेंट का दबाव नहीं झेल पाते है. लेकिन धोनी बड़े मंच पर लाजवाब प्रदर्शन करते हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here