IND vs NZ: ईशान किशन से ओपनिंग करवाने के फैसले में कौन था शामिल, कोच का खुलासा

0
37

[ad_1]

दुबई. बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) ने मंगलवार को कहा कि न्यूजीलैंड के खिलाफ (IND vs NZ) टी20 विश्व कप 2021 (ICC T20 world Cup 2021) के ग्रुप मैच में ईशान किशन (Ishan kishan) को पारी का आगाज करने के लिए भेजने से पहले लंबे समय से सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभा रहे रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को पूरी तरह से भरोसे में लिया गया था. पाकिस्तान के खिलाफ पहले मैच में 10 विकेट की हार के बाद भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ भी आठ विकेट से शिकस्त झेलनी पड़ी, जिससे उस पर ग्रुप चरण से बाहर होने का खतरा मंडरा रहा है. अफगानिस्तान के खिलाफ मैच की पूर्व संध्या पर राठौड़ ने कहा कि ईशान को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजने का फैसला किया गया, क्योंकि वे शीर्ष क्रम में बाएं हाथ का बल्लेबाज चाहते थे.

विक्रम राठौड़ से कहा, ”चीजें इस तरह हुई कि पिछली रात को सूर्या (सूर्यकुमार यादव) की पीठ में जकड़न थी और वह खेलने के लिए पूरी तरह से फिट नहीं था. बेशक उसकी जगह ईशान को लेनी थी और हमें पता है कि ईशान ने सलामी बल्लेबाज के रूप में अच्छा प्रदर्शन किया है और अतीत में भी उसने अच्छा प्रदर्शन किया है.” उन्होंने कहा, ”जहां तक यह सवाल है कि फैसला किसने किया, तो पूरे प्रबंधन ने बैठकर इस पर फैसला किया और बेशक रोहित स्वयं भी प्रबंधन का हिस्सा है. वह इस चर्चा का हिस्सा था.”

T20 World Cup: 5 गेंद में 3 विकेट लेकर विरोधी टीम को किया ‘घायल’, सबसे कम स्कोर पर समेटा भी

‘ईशान से पारी का आगाज कराना रणनीतिक रूप से समझदारी भरा फैसला’
भारत के बल्लेबाजी कोच ने कहा, ”बाएं हाथ के बल्लेबाज से पारी का आगाज कराना रणनीतिक रूप से समझदारी भरा फैसला था, हम निचले मध्यक्रम में ईशान, ऋषभ पंत, रवींद्र जडेजा के रूप में बाएं हाथ के काफी बल्लेबाज नहीं चाहते थे.” विक्रम राठौड़ इस बात से भी सहमत नहीं हैं कि इस भारतीय टीम में बल्लेबाजों का बैकअप नहीं है. उन्होंने कहा, ”मुझे ऐसा नहीं लगता. हमारे पास टीम में जडेजा भी है. सूर्या भी है, विराट है. हमारे पास पर्याप्त खिलाड़ी हैं, जो अच्छी भूमिका निभा सकते हैं और उन्होंने अतीत में ऐसा किया है. हम इसे समस्या के रूप में नहीं देखते.”

‘हमारे पास पर्याप्त बल्लेबाज हैं और बस हम योजना पर अमल नहीं कर पाए’
राठौड़ ने कहा, ”जब आप टी20 विश्व कप में खेल रहे हो तो आपके सामने सिर्फ 15 खिलाड़ियों को चुनने की सीमा है. मुझे लगता है कि हमारे पास पर्याप्त बल्लेबाज हैं और बस हम योजना पर अमल नहीं कर पाए.” इस पूर्व सलामी बल्लेबाज ने कहा कि भारतीय टीम अभी नेट रन रेट के बारे में नहीं सोच रही. उन्होंने कहा, ”हमें पहले जीत दर्ज करने की जरूरत है, इसके बाद रन रेट का समीकरण आएगा. मुझे नहीं लगता कि यह मेरे निराश होने का मामला है.”

India vs New Zealand: आईपीएल 2021 में गेंद और बल्ले से मचाया था धमाल, अब कटेगा टीम इंडिया का टिकट

‘रविचंद्रन अश्विन और राहुल चाहर को मिल सकता है मौका’
कोच ने कहा, ”यह खिलाड़ियों के निराश होने का मामला है, इस सतह पर स्ट्राइक रोटेट करना मुश्किल है, क्योंकि गति और उछाल असमान है. लेकिन अगर आप विश्व कप जीतना चाहते हो तो आपको रन बनाने के तरीके ढूंढने होंगे.” यह पूछने पर कि क्या रविचंद्रन अश्विन और राहुल चाहर को खेलने का मौका मिल सकता है? राठौड़ ने कहा, ”इस समय मैं किसी को भी दौड़ से बाहर नहीं कर सकता.”

वह साथ ही इस बात से भी सहमत नहीं हैं कि आईपीएल और टी20 विश्व कप के बीच बेहद कम अंतर होने का भी टीम के प्रदर्शन पर असर पड़ा. राठौड़ ने कहा, ”कोई भी तैयारी अच्छी तैयारी होती है, मुझे लगता है कि आईपीएल आपको अच्छा मंच मुहैया कराता है जहां आप दुनिया के शीर्ष क्रिकेटरों के खिलाफ प्रतिस्पर्धा कर सकते हो. निश्चित तौर पर यह अच्छा मंच है. मुझे आईपीएल के बाद विश्व कप में खेलने में कोई समस्या नजर नहीं आती. हमारे लिए मुद्दा योजना को अमलीजामा पहनाना है.”

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here