T20 WC: भारत की सेमीफाइनल की राह अब बस 2 उम्मीदों पर, अफगानिस्तान के लिए दुआ करेंगे भारतीय

0
9


नई दिल्ली. भारत ने टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup-2021) के सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें बरकरार रखी हैं. टीम इंडिया ने शुक्रवार को दुबई में हरफनमौला खेल दिखाते हुए सुपर-12 चरण के मैच में स्कॉटलैंड (IND vs SCO) को 8 विकेट से हराया. पूरा मैच ही 24.1 ओवर तक चला. भारत ने पहले स्कॉटलैंड को 17.4 ओवर में 85 रन पर ऑलआउट कर दिया. इसके बाद मात्र 39 गेंदों (6.3 ओवर) में ही मैच जीत लिया. इस जीत से भारत का नेट रनरेट प्लस 1.619 हो गया जो ग्रुप की छह टीमों में सर्वश्रेष्ठ है.

सुपर-12 के ग्रुप-2 में पहले स्थान पर काबिज पाकिस्तान का नेट रनरेट प्लस 1.065 है. ग्रुप की फिलहाल अंकतालिका की बात करें तो भारत तीसरे स्थान पर पहुंच गया है. उसके 4 मैचों में 2 जीत से 4 अंक हैं. स्कॉटलैंड सबसे निचले स्थान पर है. पाकिस्तान 8 अंकों के साथ टॉप पर है जबकि न्यूजीलैंड दूसरे नंबर पर है. न्यूजीलैंड के 6 अंक हैं.

इसे भी पढ़ें, भारत ने बनाया सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड, सेमीफाइनल की उम्मीदें हुईं मजबूत

अफगानिस्तान के नेट रनरेट प्लस 1.481 को पीछे छोड़ने के लिए भारत को लक्ष्य 7.1 ओवर में हासिल करना था. केएल राहुल और रोहित शर्मा ने पहले 5 ओवर में ही 70 रन बना डाले. राहुल ने 19 गेंद में 50 और रोहित ने 16 गेंद में 30 रन बनाए. भारत के 50 रन 4 ओवर में बन गए जो इस टूर्नामेंट का सबसे तेज अर्धशतक है. सूर्यकुमार यादव (6*) ने विजयी छक्का जड़ा. भा रतीय बल्लेबाजों ने मिलकर 11 चौके और 4 छक्के लगाए.

सेमीफाइनल में पहुंचने की भारत की उम्मीदें हालांकि अफगानिस्तान पर टिकी हैं जिसे रविवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ मुकाबला खेलना है. अफगानिस्तान की जीत के मायने हैं कि भारत को पता होगा कि नामीबिया को कैसे हराना है. अगर न्यूजीलैंड जीत जाता है तो भारत टूर्नामेंट से बाहर हो जाएगा. अब यदि भारत को सेमीफाइनल में पहुंचना है तो पहले अफगानिस्तान के लिए दुआ करनी होगी कि वह न्यूजीलैंड को 7 नवंबर को होने वाले मैच में हरा दे. इसके बाद फिर भारतीय टीम नामीबिया को मात दे, हालांकि नेट रन रेट को भी देखना होगा ताकि अफगानिस्तान को पीछे छोड़ा जा सके.

इसे भी पढ़ें, रवींद्र जडेजा ने भारत की उम्मीद को बरकरार रखा, अहम मैच में किया करियर का बेस्ट प्रदर्शन

मैच के बात करें तो स्कॉटलैंड ने भारत के सामने सिर्फ 86 रनों का लक्ष्य रखा जिसे टीम इंडिया ने 2 विकेट खोकर 6.3 ओवर में हासिल कर लिया. भारत ने यह मुकाबला सिर्फ 39 गेंदों में जीता जो टी20 इतिहास में उसकी गेंदों की लिहाज से सबसे बड़ी जीत है. मैन ऑफ द मैच रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) रहे जिन्होंने 4 ओवर में 15 रन देकर 3 विकेट अपने नाम किए. पेसर मोहम्मद शमी ने भी 3 विकेट लिए जबकि जसप्रीत बुमराह को 2 विकेट मिले. बुमराह इसके साथ ही युजवेंद्र चहल (63 विकेट) को पछाड़कर टी20 फॉर्मेट में भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी बन गए.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here