T20 World Cup में जीतकर भी हार गया दक्षिण अफ्रीका, कोच बाउचर बोले- यह कड़वा घूंट पीने जैसा

0
7


नई दिल्ली. टी20 विश्व कप (T20 World Cup 2021) में 5 में से 4 मैच जीतने के बावजूद दक्षिण अफ्रीका सेमीफाइनल में नहीं पहुंच पाया. इससे टीम के मुख्य कोच मार्क बाउचर (Mark Boucher) मायूस हैं. उन्होंने कहा कि खराब नेट रनरेट के कारण टी20 विश्व कप के सेमीफाइनल से बाहर होना ‘कड़वा घूंट’ पीने की तरह है. टूर्नामेंट में प्रदर्शन के आधार पर दक्षिण अफ्रीका सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करने का प्रबल दावेदार था. अपने अंतिम ग्रुप मैच में भी दक्षिण अफ्रीका ने इंग्लैंड (ENG vs SA T20 World Cup) को 10 रन से हराया था. लेकिन यह टीम को सेमीफाइनल में जगह दिलाने के लिए काफी नहीं था. इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के भी आठ-आठ अंक थे. लेकिन ये दोनों टीमें बेहतर नेट रनरेट के कारण सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रहीं.

बाउचर ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, “यह सफल नहीं रहा. क्योंकि आप विश्व कप से बाहर हो गए. यह कड़वा घूंट पीने की तरह है. मुझे लगता है कि पूरे टूर्नामेंट के दौरान हमने काफी अच्छा क्रिकेट खेला, पहला मैच गंवाने के बाद हमने काफी दबाव में क्रिकेट खेला.” टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीका को क्वालीफाई करने के लिए इंग्लैंड को 130 रन से कम के स्कोर पर रोकना था. लेकिन टीम ऐसा करने में नाकाम रही.

जीतने के बाद बाहर होना हजम नहीं हो रहा: बाउचर
बाउचर ने आगे कहा, “ड्रेसिंग रूम में मौजूद खिलाड़ियों के लिए यह कड़ा समय है. हमें आज पता था कि हमें क्या करना है. लेकिन हमारे लिए समीकरण काफी मुश्किल थे. मैंने खिलाड़ियों से कहा कि सिर्फ उन्हीं चीजों को नियंत्रित करने का प्रयास कीजिए, जिसे हम नियंत्रित कर सकते हैं. दुर्भाग्य से हम अन्य नतीजों को नियंत्रित नहीं कर सकते. इसे हजम करना आसान नहीं है.”

बाउचर को टूर्नामेंट से बाहर होने का मलाल
बाउचर को मलाल है कि दक्षिण अफ्रीका की टीम आस्ट्रेलिया और बांग्लादेश के खिलाफ मौकों का फायदा उठाने में नाकाम रही. दक्षिण अफ्रीका ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने पहले मैच में नौ विकेट पर 118 रन के स्कोर का लगभग बचाव कर ही लिया था. लेकिन अंतत: टीम को टूर्नामेंट की अपनी एकमात्र हार का सामना करना पड़ा. इसके बाद टीम के पास बांग्लादेश के खिलाफ अपने नेट रनरेट में सुधार का मौका था. टीम ने हालांकि 85 रन के लक्ष्य को हासिल करने के लिए 13.3 ओवर लिए. अगर टीम आठ ओवर के भीतर लक्ष्य हासिल कर लेती तो चीजें अलग हो सकती थी. बाउचर, हालांकि टूर्नामेंट में टीम के अच्छे प्रदर्शन से खुश हैं और उनका मानना है कि इससे टीम को फायदा होगा.

T20 World Cup: AFG vs NZ से पहले भारतीय फैंस ने बदले अपने नाम, सहवाग को याद आए आमिर खान

उन्होंने कहा कि इस टीम को पता है हम सफर पर निकले हैं, हम ऊपर की ओर जा रहे हैं, हम सफर के दौरान सीख रहे हैं. यह हमारा सर्वश्रेष्ठ नहीं है. इन मैचों से हमें काफी फायदा होगा. क्योंकि जैसा कि मैंने कहा, हम प्रत्येक मैच दबाव में खेले. दक्षिण अफ्रीका ने टूर्नामेंट में अपने प्रदर्शन से काफी प्रभावित किया और पहले मैच में आस्ट्रेलिया के खिलाफ हार के बाद श्रीलंका, बांग्लादेश, वेस्टइंडीज और इंग्लैंड को हराया था.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here