गौतम गंभीर को उम्मीद, रोहित शर्मा और राहुल द्रविड़ जल्द ही ICC टूर्नामेंट जीतेंगे

0
7


नई दिल्ली. टीम इंडिया (Team India) 8 साल बाद आईसीसी ट्रॉफी जीतने के सपने को जीने से चूक गई है. अफगानिस्तान पर न्यूजीलैंड (NZ vs AFG) की जीत के बाद टीम इंडिया आईसीसी टी20 विश्व कप 2021 (ICC T20 World Cup 2021) से बाहर हो गई है. भारत की 4 मैचों में 2 जीत हैं और वह न्यूजीलैंड की 4 जीत की बराबरी नहीं कर सकता. अफगानिस्तान के लिए एक जीत ने ‘मेन इन ब्लू’ के लिए द्वार खोल दिए होते, लेकिन उसकी हार ने टीम इंडिया की उम्मीद को खत्म कर दिया है.

टी20 वर्ल्ड कप 2021 के बाद भारतीय कैंप में कुछ बदलाव होंगे, क्योंकि उनके पास इस प्रारूप में एक नया कप्तान होगा. वर्तमान कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने कुछ महीने पहले पद छोड़ने के अपने फैसले की घोषणा की थी. भारत में एक नया कोचिंग स्टाफ होगा, क्योंकि रवि शास्त्री (Ravi Shastri) का अनुबंध इसी महीने समाप्त हो रहा है. उनकी जगह राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने ले ली है. अधिकांश अन्य कोचों को भी बदलने की तैयारी है.

‘जब खिलाड़ी देश के लिए खेलने से ज्यादा IPL को प्राथमिकता देते हैं तो हम क्या कह सकते हैं’

भारतीय क्रिकेट में एक नए युग की शुरुआत से पहले भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा है कि उन्हें उम्मीद है कि रोहित शर्मा (Rohit Sharma) और राहुल द्रविड़ की साझेदारी टीम को आईसीसी खिताब दिलाएगी. उन्होंने स्टार स्पोर्ट्स पर कहा, “मैं उम्मीद करता हूं कि रोहित शर्मा और राहुल द्रविड़ भारतीय क्रिकेट को इस प्रारूप में आगे ले जाएंगे और इंग्लैंड की तर्ज पर जल्द ही आईसीसी टूर्नामेंट जीतेंगे.”

रोहित शर्मा ने कभी भी आईसीसी आयोजन में भारत का नेतृत्व नहीं किया है और उम्मीद है कि टी20 विश्व कप 2022 में एक वैश्विक आयोजन में अपनी कप्तानी की शुरुआत करेंगे. राहुल द्रविड़ ने एक आईसीसी कार्यक्रम में भारत की कप्तानी की और दो अंडर -19 विश्व कप में जूनियर टीमों को कोचिंग दी है. 2016 में ईशान किशन की अगुवाई वाली अंडर-19 टीम ने अंडर-19 वर्ल्ड कप फाइनल में जगह बनाई, जहां वे वेस्टइंडीज से हार गए थे. इसके बाद 2018 में पृथ्वी शॉ ने ऑस्ट्रेलिया पर जोरदार जीत के बाद टीम को खिताबी जीत दिलाई थी. इस दौरान राहुल द्रविड़ ही अंडर-19 टीम के कोच थे.

T20 World Cup 2021: भरत अरुण के बयान से नाराज हरभजन सिंह, बोले- कोच ऐसे बहाने दें, वाकई बुरा है

टीम इंडिया के साथ राहुल द्रविड़ का यह पहला पूर्णकालिक कार्यकाल होगा. 2014 में उन्होंने इंग्लैंड टेस्ट के लिए भारत के बल्लेबाजी सलाहकार के रूप में काम किया था. जुलाई 2021 में उन्होंने रवि शास्त्री की अनुपस्थिति में स्टैंड-इन हेड कोच के रूप में पदभार संभाला था. उन्होंने इंग्लैंड दौरे पर गई टीम इंडिया से अलग शिखर धवन की कप्तानी टीम के साथ बतौर कोच श्रीलंका दौरे पर गए थे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here