रवि शास्त्री ने टीम इंडिया के नए कोच पर दिया बयान, बोले- राहुल द्रविड़ को विरासत में महान टीम मिली है, उन्हें तो बस…

0
7


नई दिल्ली. टीम इंडिया के निवर्तमान मुख्य कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने सोमवार को कहा कि राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) को एक महान टीम विरासत में मिली है और वह केवल प्रभारी व्यक्ति के रूप में स्तर बढ़ा सकते हैं. राहुल द्रविड़ टीम इंडिया में शास्त्री की जगह लेंगे और भारत के पूर्व कप्तान की पहली जिम्मेदारी न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू टी20 इंटरनेशनल और टेस्ट सीरीज (India vs New Zealand) होगी, जो 17 नवंबर से शुरू होगी. शास्त्री 2014 में इंग्लैंड के दौरे से 2015 विश्व कप तक आठ महीने के लिए भारतीय क्रिकेट टीम के निदेशक बने थे.उन्हें 2016 में हटा दिया गया था, लेकिन 13 जुलाई 2017 को उन्हें भारतीय टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया गया था और फिर उन्होंने विराट कोहली (Virat Kohli) के साथ शानदार जोड़ी बनाई. उनके कार्यकाल का मुख्य आकर्षण ऑस्ट्रेलिया में एक के बाद एक दो टेस्ट सीरीज जीतना रहा, लेकिन इस बीच टीम आईसीसी का कोई टूर्नामेंट नहीं जीत पाई.

रवि शास्त्री ने राहुल द्रविड़ को कोच बनाए जाने पर कहा, ‘राहुल द्रविड़ के रूप में उनके पास एक ऐसा व्यक्ति है, जिसे विरासत में एक महान टीम मिली है. मुझे लगता है कि अपने अनुभव के साथ वह आने वाले समय में केवल स्तर बढ़ा सकते हैं. यहां अभी भी ऐसे खिलाड़ी हैं, जो 3-4 साल और खेलेंगे जो बहुत महत्वपूर्ण है. यह एक टीम में बदलाव नहीं है और इससे सबसे बड़ा फर्क पड़ेगा.’ शास्त्री को कप्तान विराट कोहली के साथ बड़ी सफलता मिली और दोनों के पीरियड में टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज जीतने में सफल रही.

‘मेरा एग्रेसिव बिहेवियर नहीं बदलने वाला है, जिस दिन यह चला गया उस दिन मैं…’

रवि शास्त्री ने कहा, ‘विराट अभी भी वहीं हैं. उन्होंने टीम के नेता के रूप में शानदार काम किया है. वह पिछले पांच वर्षों में टेस्ट क्रिकेट के सबसे बड़े एंबेसडर रहे हैं. बहुत सारा श्रेय उन्हें जाता है. जिस तरह से वह सोचते हैं, वह कैसे चाहता है कि टीम खेल खेलना चाहती है और टीम भी उनके इर्दगिर्द सिमटी हुई है.’ अफगानिस्तान के न्यूजीलैंड को हराने में नाकाम रहने के बाद रविवार को भारत विश्व कप से बाहर हो गया.
विराट कोहली ने टी20 वर्ल्‍ड कप 2021 से बाहर होने के बाद लिखा इमोशनल मैसेज, बताया- कौन है सबसे ज्‍यादा निराश

शास्त्री ने कहा, ‘मैं मानसिक रूप से थका हुआ हूं, लेकिन मेरी उम्र में ऐसा होना जायज है. ये लोग शारीरिक और मानसिक रूप से थके हुए हैं. छह महीने एक बायो बबल में…. हम आदर्श रूप से आईपीएल और विश्व कप के बीच एक बड़ा अंतर पसंद करते. यह तब होता है, जब बड़े खेल आते हैं और जब आप पर दबाव पड़ता है. ऐसे में आप उतने चार्ज नहीं होते, जितना आपको होना चाहिए. और यह कोई बहाना नहीं है. हम हार इसलिए लेते हैं, क्योंकि हम हारने से नहीं डरते. जीतने की कोशिश में आप एक गेम हार जाएंगे. यहां हमने जीतने की कोशिश नहीं की, क्योंकि वह एक्स-फैक्टर गलत था.’ शास्त्री ने कहा कि साढ़े छह साल तक टीम का हिस्सा रहने के बाद अब वह बेहद भावुक महसूस कर रहे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here