T20 WC Final: सबसे सफल कप्तान फेल, रिकॉर्डधारी बल्लेबाज और गेंदबाज हुए धराशायी, दुनिया ने देखे नए चैंपियन

0
7


दुबई. टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) के 45 में से 44 मुकाबले खेले जा चुके हैं. 14 नवंबर को होने वाले फाइनल में ऑस्ट्रेलिया की भिड़ंत न्यूजीलैंड से (Australia vs New Zealand) होगी. दोनों टीमों ने अब तक टी20 वर्ल्ड कप का खिताब नहीं जीता है. ऐसे में इस बार हमें नया चैंपियन देखने को मिलेगा. टूर्नामेंट से पहले भारत (India), पाकिस्तान, इंग्लैंड और वेस्टइंडीज को दावेदार माना रहा था. सभी बड़े विशेषज्ञ इन्हीं 4 टीमों के आस-पास खड़े दिखाई रहे थे. इसमें से 2 टीमें तो सुपर-12 से आगे नहीं बढ़ सकीं. वहीं 2 टीमों को सेमीफाइनल में हार मिली थी. ऐसे में खेल ने एक बार फिर सभी को चकित किया है.

पहले बात सबसे सफल कप्तान की. एमएस धोनी (MS Dhoni) दुनिया के सबसे सफल कप्तान हैं. हालांकि रिकॉर्ड के मामले में अफगानिस्तान के असगर अफगान टॉप पर थे. लेकिन बतौर टॉप टीम धोनी ही शीर्ष पर थे. टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) से पहले उन्हें टीम इंडिया (Team India) का मेंटॉर बनाया गया था. फिर भी टीम कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर सकी. पाकिस्तान ने उसे 10 विकेट से हराया जबकि न्यूजीलैंड से उसे 8 विकेट से हार मिली. टीम सिर्फ अफगानिस्तान, स्कॉटलैंड और नामीबिया के ही खिलाफ जीत दर्ज कर सकी.

गेल और ब्रावो ने सभी को किया निराश

वेस्टइंडीज टूर्नामेंट की डिफेंडिंग चैंपियन थी और उसने सबसे अधिक 2 बार टी20 वर्ल्ड कप का खिताब जीता था. ऐसे में उसे बड़ा दावेदार माना जा रहा था. क्रिस गेल (Chris Gayle) टी20 में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज थे. उन्होंने 14 हजार से अधिक रन बनाए थे और 22 शतक भी जड़े थे. लेकिन टी20 वर्ल्ड कप के एक भी मैच में वे 50 रन का आंकड़ा नहीं छू सके. इतना ही नहीं वे 5 मैच में सिर्फ 45 रन बना सके. वहीं ड्वेन ब्रावो (Dwayne Bravo) टी20 में 500 से अधिक विकेट लेने वाले इकलौते गेंदबाज थे. लेकिन वे टी20 वर्ल्ड कप के 5 मैच में सिर्फ 2 विकेट ले सके. टूर्नामेंट के बाद उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास भी ले लिया है.

3 साल में 3 आईसीसी ट्राॅफी के फाइनल में बनाई जगह

न्यूजीलैंड (New Zealand) किसी भी टूर्नामेंट में हमेशा छुपे रुस्तम की तरह उतरती है. मौजूद टी20 वर्ल्ड कप में भी उसने ऐसा ही किया है. पहले मैच में उसे पाकिस्तान से हार मिली. इसके बाद भी टीम ने लय नहीं खोई. भारत को मात देते हुए टीम ने सुपर-12 में इसके बाद लगातार 4 मैच जीते. फिर सेमीफाइनल में खिताब की दावेदार इंग्लैंड की टीम को शिकस्त दी. टीम ने पिछले 3 साल में 3 आईसीसी ट्रॉफी के फाइनल में जगह बनाई. एक में टीम चैंपियन बन चुकी है और एक में रनरअप रही. 2019 में वनडे वर्ल्ड कप के फाइनल में उसे इंग्लैंड से हार मिली. इसी साल टीम ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) के फाइनल में भारत को हराया. डेरिल मिशेल, मार्टिन गप्टिल, ट्रेंट बोल्ट और ईश सोढ़ी ने अब तक चैंपियन वाला प्रदर्शन किया है.

यह भी पढ़ें: टीम इंडिया को जनवरी में मिल सकता है एक और कप्तान, घर नहीं विदेशी धरती से करेगा आगाज

ऑस्ट्रेलिया को पहले खिताब का इंतजार

ऑस्ट्रेलिया (Australia) की टीम अब तक टी20 वर्ल्ड कप का खिताब नहीं जीत सकी है. टीम ने सबसे अधिक 5 बार वनडे वर्ल्ड कप का खिताब जीता है. सुपर-12 में टीम ने 5 में से 4 मुकाबले जीते थे. फिर सेमीफाइनल में पाकिस्तान जैसी मजबूत टीम को परास्त किया. पाकिस्तान ने सुपर-12 में एक भी मुकाबला नहीं गंवाया था. टीम की ओर से अब तक डेविड वॉर्नर, एरॉन फिंच, एडज जम्पा, मिशेल स्टार्क ने अच्छा प्रदर्शन किया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here