IND vs NZ: इंग्लैंड में अपने हुनर को तराशा, अब बनेगा न्यूजीलैंड टीम के खिलाफ भारत का बड़ा ‘हथियार’

0
7


नई दिल्ली. बीसीसीआई (BCCI) ने एक दिन पहले न्यूजीलैंड के खिलाफ 2 टेस्ट की सीरीज के लिए भारतीय टीम (IND vs NZ Test Series) का ऐलान किया था. इसमें कई युवा चेहरों को मौका मिला है. इसमें कर्नाटक के तेज गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्णा (Prasidh Krishna) भी शामिल हैं. प्रसिद्ध इंग्लैंड दौरे पर टीम के साथ थे. लेकिन उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला था. लेकिन, न्यूजीलैंड के खिलाफ जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah), मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) को आराम देने के कारण उनके पास वनडे के बाद टेस्ट में डेब्यू करने का मौका है.

प्रसिद्ध ने इसी साल मार्च में इंग्लैंड के खिलाफ वनडे से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू (Prasidh Krishna ODI Debut) किया था. अपने पहले ही मैच में उन्होंने 4 विकेट लेकर भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई थी. यह वनडे डेब्यू में किसी भी भारतीय गेंदबाज का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन था.

प्रसिद्ध कृष्णा को भारती टेस्ट टीम में अचानक ही शामिल नहीं किया गया है. उन पर लंबे वक्त से सेलेक्टर्स की नजर थी. उन्हें इसी साल अगस्त में इंग्लैंड के खिलाफ ओवल में खेले चौथे टेस्ट के लिए स्टैंडबाई गेंदबाज के तौर पर भी रखा गया था. इसके अलावा वो वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भी भारतीय टीम के स्टैंडबाई खिलाड़ी थे.

टीम इंडिया का दोबारा हिस्सा बनने पर खुश हूं: प्रसिद्ध
2015 में फर्स्ट क्लास डेब्यू करने वाले प्रसिद्ध भारतीय टेस्ट टीम का हिस्सा बनने से खुश हैं. उन्होंने टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा कि मैं इस अवसर के लिए बहुत आभारी हूं. क्योंकि मुझे दोबारा दिग्गज खिलाड़ियों के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करने का मौका मिलेगा. साथ ही मैं उनसे खेल की जरूरी बारीकियां भी सीख पाऊंगा. प्रसिद्ध का मानना है कि इंग्लैंड दौरे ने उन्हें बेहतर खिलाड़ी बनने में मदद की.

‘इंग्लैंड दौरे के कारण आत्मविश्वास बढ़ा’
उन्होने कहा कि इंग्लैंड में गेंदबाजी करना काफी चुनौतीपूर्ण होता है. वैसे कंडीशन में सीखने को काफी मिलता है. मुझे लगता है उस दौरे के बाद मेरा आत्मविश्वास बढ़ा है और मेरे खेल का स्तर भी ऊंचा हुआ है. इंग्लैंड में गेंदबाजी करने से मेरे हुनर और प्रदर्शन में निरंतरता देखने को मिली है. उस दौरे ने मेरे अंदर के एक्स फैक्टर को उभारा है. साथ में दबाव को झेलने के लिए भी मजबूत बनाया.

IND vs NZ: 659 विकेट लेने वाला गेंदबाज अनदेखी से नाराज, बल्लेबाजी का वीडियो शेयर कर सेलेक्टर्स पर कसा तंज

On This Day: रोहित शर्मा ने ठोका वनडे का सबसे बड़ा स्कोर, श्रीलंका तो उनके बराबर भी नहीं बना सका था

‘राहुल द्रविड़ पर कभी दवाब हावी नहीं होता’
न्यूजीलैंड सीरीज से राहुल द्रविड़ बतौर कोच भारतीय टीम से जुड़ेंगे. प्रसिद्ध का मानना है कि उनके लिए यह सीखने का एक और मोका है. इस तेज गेंदबाज ने कहा कि मैंने ‘इंडिया-ए’ टीम के साथ और नेशनल क्रिकेट एकेडमी में अपने समय के दौरान राहुल सर के साथ विस्तार से बातचीत की है. वह ऐसे व्यक्ति हैं, जो हमेशा शांत रहते हैं और उन पर कभी दबाव नहीं दिखता. ये खेल के कई पहलुओं में से हैं जो हमें उनसे सीखने को मिलते हैं. इसलिए, मैं अपने करियर के इस दौर में उनसे सीखने के लिए उत्साहित हूं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here