क्या रवि शास्त्री को रह गया अपने कार्यकाल से मलाल, बोले- टीम इंडिया 2 ICC ट्रॉफी जीत सकती थी

0
5


नई दिल्ली. सभी प्रारूपों पर हावी होने और क्रिकेट को निडर होकर खेलने के बावजूद विराट कोहली (Virat Kohli) की अगुवाई वाली टीम इंडिया (Team India) पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) के प्रतिष्ठित कार्यकाल के दौरान आईसीसी आयोजनों में अपने ट्रॉफी (ICC Trophy) सूखे को समाप्त करने में विफल रही. विराट कोहली और रोहित शर्मा की अगुवाई वाली टीम के साथ अपने कोचिंग कार्यकाल को समाप्त करने के कुछ दिनों बाद पूर्व क्रिकेटर शास्त्री ने भारतीय क्रिकेट टीम के साथ अपनी अविश्वसनीय यात्रा का अनुभव शेयर किया. शास्त्री ने टीम इंडिया के मुख्य कोच के रूप में अपना शानदार कार्यकाल पूरा कर लिया है. उनका कार्यकाल आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 (ICC T20 World Cup) में भारत और नामीबिया के मैच के साथ खत्म हो गया. यही मैच भारत के लिए भी वर्ल्ड कप का अंतिम मैच रहा.

भारत टी20 वर्ल्ड कप 2021 में पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के हाथों अपने दोनों शुरुआती मैच हार गया. इसके बाद से ही टीम इंडिया के सेमीफाइनल में पहुंचने का सफर अगर-मगर पर टिक गया था. न्यूजीलैंड के खिलाफ अफगानिस्तान की हार के बाद यह अगर-मगर भी खत्म हो गया और भारत सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाने में नाकाम रहा. टीम इंडिया के मुख्य कोच के पद से हटने के बाद रवि शास्त्री ने टाइम्स नाउ से बात करते हुए अपने कोचिंग कार्यकाल के दौरान एक वैश्विक टूर्नामेंट नहीं जीतने की टीम की विफलता के बारे में भी बात की.

वीवीएस लक्ष्मण बनेंगे एनसीए के अगले हेड, लेकिन पहले तोड़ना होगा कुछ जिम्मेदारियों से नाता

‘टीम इंडिया ने अपेक्षाओं को कर लिया था पार’
टीम इंडिया के साथ अपने कार्यकाल पर नजर डालते हुए पूर्व मुख्य कोच शास्त्री ने कहा कि कोहली की अगुवाई वाली टीम ने उनकी अपेक्षाओं को पार कर लिया. शास्त्री ने कहा, “जब मैंने पांच साल पहले काम संभाला था, तो टीम ने उन अपेक्षाओं को पार कर लिया था और मेरे लिए यह सबसे बड़ी बात है.”

शास्त्री के कार्यकाल में टीम ने कई सीरीज जीती
पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री के मार्गदर्शन में टीम इंडिया, ऑस्ट्रेलिया को उसके ही घर में हराने वाली पहली एशियाई टेस्ट टीम बनी. भारत ने मशहूर बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में ऑस्ट्रेलिया पर दो सीरीज जीत दर्ज की. भारत श्रीलंका और वेस्टइंडीज को उनके घर में हराने के अलावा, भारत दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया को द्विपक्षीय टी20 इंटरनेशनल सीरीज में हराने में भी कामयाब रहा.

‘आईसीसी ट्रॉफी ना जीतने का नहीं है अफसोस’
हालांकि, कोच शास्त्री के कार्यकाल में विराट कोहली की अगुवाई वाली भारतीय टीम कोई आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीत पाई. शास्त्री ने कहा, “यह अफसोस की बात नहीं है, टीम ने पिछले कुछ वर्षों में सभी प्रारूपों में इतना अच्छा प्रदर्शन किया है. यह निराशाजनक है, क्योंकि मेरे दिमाग में यह टीम कम से कम 2 आईसीसी ट्रॉफी (मेरे कार्यकाल में) जीतने के लिए काफी अच्छी थी.”

मैथ्यू वेड: कारपेंटर से ऑस्ट्रेलिया को टी20 वर्ल्ड कप फाइनल में पहुंचाने वाला हीरो

राहुल द्रविड़ बने हैं टीम इंडिया के नए कोच
रवि शास्त्री के कोचिंग कार्यकाल में टीम इंडिया ने 2019 में इंग्लैंड और वेल्स द्वारा आयोजित 50 ओवर के आईसीसी विश्व कप के सेमीफाइनल में जगह बनाई थी. शास्त्री की देखरेख में कोहली एंड कंपनी आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियशिप के उद्घाटन संस्करण में उपविजेता रही. भारतीय पक्ष के मुख्य कोच के रूप में शास्त्री के आखिरी टूर्नामेंट में, कोहली की अगुवाई वाली टीम इंडिया सुपर 12 चरण में टी 20 विश्व कप 2021 से बाहर हो गई. जबकि रोहित शर्मा को हाल ही में भारत के नए टी20 इंटरनेशनल कप्तान के रूप में नामित किया गया. लीजेंडरी क्रिकेटर राहुल द्रविड़ ने रवि शास्त्री को न्यूजीलैंड सीरीज से पहले टीम इंडिया के मुख्य कोच के रूप में रिप्लेस किया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here