राहुल द्रविड़ के बेटे ने की सौरव गांगुली से पापा की शिकायत, फिर दादा ने ‘द वॉल’ को बना दिया टीम इंडिया का कोच

0
7


नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने इस महीने की शुरुआत में राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) की भारतीय क्रिकेट टीम (Team India) के मुख्य कोच के रूप में नियुक्ति की पुष्टि की. कई रिपोर्ट्स ने पुष्टि की थी कि राहुल द्रविड़ टीम इंडिया के हेड कोच का पदभार संभालने के लिए पहली पसंद थे. ऐसे में मानक प्रक्रिया का पालन करते हुए बीसीसीआई ने राहुल द्रविड़ की नियुक्ति की. आईसीसी हॉल ऑफ फेमर अगले 2 वर्षों तक शीर्ष पद पर रहेंगे. रवि शास्त्री (Ravi Shastri) की तरह राहुल द्रविड़ का अनुबंध भी रिन्यू किया जा सकता है, यदि टीम उनके मार्गदर्शन में अच्छा प्रदर्शन करती है.

राहुल द्रविड़ की नियुक्ति पर हाल ही में 40वें शारजाह अंतर्राष्ट्रीय पुस्तक मेले में बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने मजाक में कहा, ‘मुझे राहुल द्रविड़ के बेटे का फोन आया था. उसने मुझे बताया कि उनके पिता राहुल उनके साथ बहुत सख्त हैं और उन्हें दूर करने की जरूरत है. तभी मैंने राहुल (द्रविड़) को फोन किया और उनसे कहा कि उनके लिए राष्ट्रीय टीम में शामिल होने का समय आ गया है.’ कोलकाता में जन्मे क्रिकेटर ने यह भी खुलासा किया कि कोचिंग की नौकरी के बारे में द्रविड़ के साथ संवाद करना उनके लिए आसान था, क्योंकि उनकी दोस्ती वर्षों से बरकरार है.

T20 WC Final: केन विलियमसन ने लगातार दूसरे फाइनल में खेली बड़ी पारी, बतौर कप्तान बना दिया बड़ा रिकॉर्ड

इसके अलावा सौरव गांगुली ने खुलासा किया कि चूंकि वे एक साथ खेले थे, इसलिए उनके लिए द्रविड़ का स्वागत और चाहत करना आसान था. उन्होंने कहा, ‘हम एक साथ बड़े हुए, लगभग एक ही समय में शुरुआत की और ज्यादातर समय एक साथ खेलने में बिताया. इसलिए हम में से कुछ के लिए उन्हें स्वागत और चाहने का एहसास कराना आसान था.’

राहुल द्रविड़ ने टीम इंडिया का कार्यभार संभाल लिया है और जयपुर में भारतीय टीम के साथ शामिल हो गए हैं. यहां ‘मेन इन ब्लू’ 17 नवंबर को न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला टी20 मैच खेलना है. न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत को 3 टी20 इंटरनेशनल और 2 टेस्ट मैचों खेलने हैं. इसके बाद टीम इंडिया दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए उड़ान भरेगी.

स्टेफनी टेलर ने पाकिस्तान में किया धमाका, मिताली राज के स्पेशल क्लब में बनाई जगह, विरोधी का सफाया भी किया

बता दें कि राहुल द्रविड़ ने 2019 से 2021 तक राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में काम किया और बेंगलुरु में रहे. लेकिन वह लंबे समय तक घर से दूर रहेंगे, क्योंकि टीम इंडिया के पास एक व्यस्त कैलेंडर है. न्यूज एंजेसी पीटीआई के अनुसार, राहुल द्रविड़ की जगह वीवीएस लक्ष्मण को एनसीए प्रमुख बनाया जाएगा. 47 वर्षीय पूर्व भारतीय क्रिकेटर वर्तमान में एक पूर्णकालिक कमेंटेटर और अंशकालिक कोच हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here