आदिल राशिद ने माइकल वॉन पर लगे नस्लवाद के आरोपों की पुष्टि की, कहा- जांच का समर्थन कर खुश हूं

0
4


लंदन. इंग्लैंड के लेग स्पिनर आदिल राशिद (Adil Rashid) ने माइकल वॉन (Michael Vaughan) के खिलाफ नस्लवाद (Racism Allegations) के यॉर्कशर टीम के पूर्व साथी अजीम रफीक (Azeem Rafiq) के आरोपों का समर्थन करते हुए कहा है कि वह इसकी पुष्टि कर सकते हैं कि पूर्व कप्तान की टिप्पणियां एशियाई खिलाड़ियों के लिए थी. टी20 विश्व कप के सेमीफाइनल तक पहुंची इंग्लैंड टीम के सदस्य राशिद ने कहा कि वह रफीक के दावों की जांच के लिए किसी भी आधिकारिक जांच में सहयोग के लिए तैयार हैं. रफीक ने यॉर्कशर के खिलाफ संस्थागत नस्लवाद के आरोप लगाए हैं. माइकल वॉन इसके पूर्व कप्तान थे और राशिद अभी भी इसके लिए खेलते हैं.

उन्होंने दावा किया था कि माइकल वॉन ने 2009 में एक मैच से पहले टीम के एशियाई खिलाड़ियों के समूह से कहा था कि उनकी संख्या बहुत ज्यादा है और इसके लिए कुछ करना होगा. यह कथित घटना तब हुई जब यॉर्कशर 2009 में नॉटिंघमशर के खिलाफ एक मैच के दौरान मैदान पर उतर रहा था. पेशेवर खिलाड़ी के तौर पर यह रफीक का पहला सत्र था.
India vs Pakistan: पाकिस्तान से बदला लेने के लिए अभी से करनी होगी तैयारी, दूर नहीं है मुकाबला

ईएसपीएन क्रिकइन्फो ने राशिद के हवाले से कहा, ”मैं अपने क्रिकेट पर फोकस करना चाहता था और ऐसा कुछ नहीं करना चाहता था कि टीम को नुकसान हो लेकिन मैं इसकी पुष्टि कर सकता हूं कि माइकल वॉन ने वह टिप्पणी एशियाई खिलाड़ियों के समूह के लिए की थी.” उन्होंने कहा, ”नस्लवाद जीवन के हर क्षेत्र में कैंसर की तरह है. इसका सफाया जरूरी है.”

बता दें कि इस मामले में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने हालांकि इन आरोपों का पूरी तरह खंडन करते हुए कहा कि वह इस सूची से अपना नाम हटाने के लिए आखिर तक ‘लड़ाई’ इंग्लैंड को 2005 में एशेज का खिताब दिलाने वाले इस कप्तान ने कहा कि वह अपनी बेगुनाही साबित करने के लिए अंत तक लड़ेंगे. लड़ेंगे. वॉन ने 1991 से 2009 में संन्यास लेने तक यॉर्कशर काउंटी टीम का प्रतिनिधित्व किया था.

IND vs PAK द्विपक्षीय सीरीज को लेकर सौरव गांगुली ने दिया बड़ा बयान, जानें क्या कहा

वॉन ने कहा था कि कथित घटना के 11 साल बाद, दिसंबर 2020 में क्लब में संस्थागत नस्लवाद के रफीक के दावों की जांच करने वाली समिति से बात करने के लिए उनसे संपर्क किया गया था. उन्होंने कहा था, ”मैंने समिति को यह जवाब दिया कि  इस बात को सुन कर मुझे गुस्सा आ रहा है. यह कथित घटना के 11 साल बाद का समय  था. उस मैच के दौरान या पिछले 11 वर्षों में इस पर कभी सवाल नहीं उठा.” उन्होंने कहा, ”उस समय ऐसा लगा जैसे किसी ने ईंट से मेरे सर पर मार दिया. मैं 30 वर्षों से क्रिकेट खेल रहा हूं और मुझ पर एक खिलाड़ी या कमेंटेटर के रूप में कभी भी ऐसी ही किसी घटना या अनुशासनात्मक अपराध का आरोप नहीं लगाया गया है.”

Tags: Adil Rashid, Azeem Rafiq, Cricket news, Michael vaughan





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here