IND vs NZ Test Series से पहले रवींद्र जडेजा की छुट्टी, कोच राहुल द्रविड़ ने बनाया जीत का प्लान

0
6


नई दिल्ली. भारत और न्यूजीलैंड के बीच 3 टी20 की सीरीज के फौरन बाद 25 नवंबर से 2 टेस्ट खेले (IND vs NZ Test Series) जाएंगे. यह बतौर हेड कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) का भारतीय टीम के साथ पहली सीरीज है. ऐसे में द्रविड़ ने अपने पहले इम्तिहान में पास होने के लिए खास प्लान तैयार किया है. इसके तहत मुंबई में टीम इंडिया का कैंप आज से शुरू होगा. इसमें न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए चुने गए खिलाड़ी शामिल होंगे. इशांत शर्मा (Ishant Sharma), मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal), प्रसिद्ध कृष्णा और चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) इस कैंप के लिए मुंबई पहुंच भी गए हैं.

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने इनसाइडस्पोर्ट को बताया कि कोच द्रविड़ ने यह महसूस किया कि न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज से पहले एक कैंप की जरूरत है. क्योंकि टीम इंडिया ने इस साल अगस्त-सितंबर में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद से ही इस फॉर्मेट में क्रिकेट नहीं खेली है. ऐसे में इस ट्रेनिंग कैंप से खिलाड़ियों को लय हासिल करने में मदद मिलेगी. इसके बाद खिलाड़ी पहले टेस्ट के लिए कानपुर जाएंगे. जहां द्रविड़ और बाकी खिलाड़ी टीम से जुड़ेंगे. द्रविड़ जयपुर में टी20 टीम के साथ होंगे और वहां से सीरीज के लिए रांची और फिर कोलकाता जाएंगे.

रवींद्र जडेजा ने भी छुट्टी बढ़ाई
विराट कोहली की तरह रवींद्र जडेजा ने भी अपनी छुट्टी बढ़ा ली है. लेकिन जडेजा कैंप खत्म होने से पहले इसमें शामिल हो जाएंगे. बोर्ड से जुड़े अधिकारी ने बताया कि जडेजा अगले 3 से 4 दिन में टीम इंडिया के कैंप में शामिल हो जाएंगे. वो लंबे वक्त से बायो-बबल में थे. ऐसे में वो परिवार के साथ ज्यादा वक्त बिताना चाहते हैं. इस बात को समझा जा सकता है. उन्होंने बोर्ड से छुट्टी बढ़ाने की गुजारिश की थी, जिसे मान लिया गया है.

द्रविड़ ने क्यों टेस्ट सीरीज से पहले मुंबई में कैंप लगाया ?
भारतीय टेस्ट टीम में शामिल खिलाड़ियों ने 2 महीने से रेड बॉल क्रिकेट नहीं खेली है. कोच द्रविड़ ने महसूस किया कि खिलाड़ियों के लिए इस वक्त कैंप जरूरी है. श्रेयस अय्यर, प्रसिद्ध कृष्णा जैसे नए खिलाड़ी भी टेस्ट टीम में आए हैं. ऐसे में कैंप के जरिए उन्हें कंडीशंस और टेस्ट क्रिकेट की बारीकियां समझाई जा सकेंगी.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, बीसीसीआई और राहुल द्रविड़ पहले चाहते थे कि बेंगलुरू स्थित नेशनल क्रिकेट एकेडमी में टीम इंडिया का कैंप हो. क्योंकि वहां एनसीए के कोच की देखरेख में खिलाड़ियों की ट्रेनिंग मिलती. लेकिन आखिरी समय में कैंप का स्थान बदलकर मुंबई कर दिया गया. क्योंकि टेस्ट सीरीज का दूसरा मैच 3 दिसंबर से यहीं खेला जाना है. इससे तैयारी में खिलाड़ियों को मदद मिलेगी.

T20 World Cup 2021 में ड्रॉप हुए 5 भारतीय खिलाड़ी वर्ल्ड कप 2022 में कर सकते हैं वापसी

राहुल द्रविड़ के बेटे ने की सौरव गांगुली से पापा की शिकायत, फिर दादा ने ‘द वॉल’ को बना दिया टीम इंडिया का कोच

कैंप के लिए बायो-बबल नहीं होगा
बीसीसीआई अधिकारी ने बताया कि न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए चुने गए ज्यादातर खिलाड़ी लंबे वक्त से बायो-बबल में हैं. इसलिए कैंप के लिए अलग से बायो-बबल तैयार नहीं किया जा रहा. खिलाड़ी कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट लेकर कैंप में शामिल होंगे और कानपुर टेस्ट से पहले 3 दिन के लिए क्वारंटीन होंगे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here