IND vs PAK द्विपक्षीय सीरीज को लेकर सौरव गांगुली ने दिया बड़ा बयान, जानें क्या कहा

0
6


नई दिल्ली. पिछले कई सालों से भारत और पाकिस्तान (India vs Paksitan) के बीच क्रिकेट मैच महाद्वीपीय (Asia Cup) और वैश्विक (ICC) टूर्नामेंट तक ही सीमित हैं. अंतिम बार दोनों टीमें द्विपक्षीय सीरीज में 2012-13 में मिले थे, जब कट्टर प्रतिद्वंद्वियों ने भारत में तीन-तीन वनडे और टी20 इंटरनेशनल सीरीज खेली थी. दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण राजनयिक संबंधों ने भारत बनाम पाकिस्तान द्विपक्षीय क्रिकेट (IND vs PAK) को रोकने के लिए मजबूर कर दिया है. हालांकि, पाकिस्तान के कई पूर्व क्रिकेटरों ने दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सीरीज को फिर से शुरू करने की मांग की है. ऐसे में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) अध्यक्ष सौरव गांगुली ने जोर देकर कहा कि अकेले क्रिकेट बोर्ड किसी निर्णय पर नहीं आ सकते.

भारत और पाकिस्तान ने हाल ही में कतर में आईसीसी पुरुष टी20 विश्व कप 2021 में एक-दूसरे का सामना किया, जो टूर्नामेंट का सबसे ज्यादा देखा जाने वाला खेल था. भारत और पाकिस्तान केवल आईसीसी द्वारा आयोजित टूर्नामेंट में एक-दूसरे के साथ खेलते हैं. इस पर गांगुली ने कहा कि द्विपक्षीय क्रिकेट एक ऐसी चीज है, जिस पर संबंधित सरकारों को काम करना है.
बाबर आजम बने ICC T20 World Cup टीम के कप्तान, भारत का एक भी खिलाड़ी टीम में शामिल नहीं

सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने 40वें शारजाह अंतर्राष्ट्रीय पुस्तक मेले में एक किताब के लॉन्च के मौके पर कहा, ‘यह क्रिकेट बोर्डों के हाथों में नहीं है. विश्व टूर्नामेंट में, दोनों टीमें एक-दूसरे के साथ खेलती हैं. द्विपक्षीय क्रिकेट को वर्षों से रोक दिया गया है और यह कुछ ऐसा है जिस पर संबंधित सरकारों को काम करना है. ये न रमीज के हाथ में है और न ही मेरे.’ इससे पहले पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) के अध्यक्ष रमीज राजा (Ramiz Raja) ने कहा था कि उन्होंने गांगुली से बातचीत की है. राजा ने जोर देकर कहा था कि राजनीति को खेल से दूर रखा जाना चाहिए.

रमीज राजा ने कहा था, ‘मैंने एसीसी की बैठकों के इतर बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह से मुलाकात की. हमें क्रिकेट का बंधन बनाने की जरूरत है. मेरा यह भी मानना ​​है कि राजनीति को जितना हो सके उतना खेल से दूर रहना चाहिए और हमारा हमेशा से यही रुख रहा है.’
T20 World Cup 2021: डेविड वॉर्नर को ‘प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट’ मिलने पर भड़के शोएब अख्तर, बताया गलत फैसला

शारजाह में कार्यक्रम के दौरान सौरव गांगुली ने 2004 में भारत के पाकिस्तान दौरे की एक कहानी भी साझा की, जब उन्होंने लाहौर में ‘कबाब’ खाने के लिए सुरक्षा प्रोटोकॉल तोड़े थे. पूर्व भारतीय कप्तान ने खुलासा किया कि पाकिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने उन्हें फटकार लगाई थी. पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, ‘मुझे (परवेज) मुशर्रफ का फोन आया और उन्होंने मुझे चेतावनी दी कि मैं सुरक्षा प्रोटोकॉल तोड़ने के अलावा जो चाहे कर सकता हूं.’

Tags: Cricket news, India, Pakistan, Ramiz Raja, Sourav Ganguly





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here