पाकिस्तान में 29 साल बाद होगा ICC का बड़ा इवेंट, मिला चैंपियंस ट्रॉफी 2025 होस्ट करने का अधिकार

0
7


नई दिल्ली. इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने 2024 से 2031 तक होने वाले आठ पुरुषों के टूर्नामेंटों की लिस्ट और आयोजकों के नाम जारी कर दिए हैं. 17 सदस्य देशों ने 2024 से 2031 तक होने वाले आठ पुरुषों के सफेद गेंद वाले आईसीसी इवेंट की मेजबानी के लिए अपनी दावेदारी पेश की थी. इसमें पाकिस्तान (Pakistan) को भी इस बार एक आईसीसी इवेंट की मेजबानी का अधिकार मिल गया है. 2024 से 2031 के बीच आईसीसी के दो वनडे वर्ल्ड कप, 4 टी20 वर्ल्ड कप और 2 चैंपियंस ट्रॉफी खेली जानी हैं. इनमें से पाकिस्तान को 2025 में होने वाली चैंपियंस ट्रॉफी (Champions Trophy 2025) की मेजबानी का अधिकार मिल गया है.

दरअसल, यह पाकिस्तान के लिए खास मौका है, क्योंकि पाकिस्तान ने 1996 के विश्व कप के फाइनल के बाद से किसी आईसीसी इवेंट के आयोजन की मेजबानी नहीं की हैं. सुरक्षा चिंताओं ने पाकिस्तान में एक दशक से अधिक समय से खेले जाने वाले अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की मात्रा को गंभीर रूप से सीमित कर दिया है. देश को मूल रूप से 2008 में चैंपियंस ट्रॉफी की मेजबानी मिली थी, लेकिन इसे दक्षिण अफ्रीका में स्थानांतरित कर दिया गया. फिर लाहौर में श्रीलंका की टीम बस पर 2009 के हमलों के बाद पाकिस्तान को किसी आईसीसी इवेंट की मेजबानी नहीं मिली.
BREAKING: भारत को आईसीसी ने दी 3 बड़े आयोजन की जिम्मेदारी, पाकिस्तान में होगी चैंपियंस ट्रॉफी

पाकिस्तान को 2011 के वर्ल्ड कप की मेजबानी संयुक्त रूप से मिली थी, लेकिन सुरक्षा कारणों की वजह से 2011 का वर्ल्ड कप सिर्फ भारत, श्रीलंका और बांग्लादेश में संयुक्त रूप से खेला गया. 2015-2023 चक्र में किसी भी विश्व आयोजन की मेजबानी या सह-मेजबानी करने में विफल रहने के बाद पाकिस्तान को अब 2024-2031 चक्र में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट आयोजन का अधिकार मिल गया है.

3 मार्च, 2009 (श्रीलंका की बस टीम पर हमला)
टेस्ट मैच के तीसरे दिन से पहले श्रीलंकाई टीम की बस में खिलाड़ी और मैच अधिकारी जा रहे थे. उस वक्त आतंकवादियों ने लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम के पास हमला किया. इस हमले में छह श्रीलंकाई खिलाड़ी घायल हुए और रिजर्व अंपायर गंभीर चोटें आईं. गोलीबारी में छह सुरक्षाकर्मी और दो नागरिक मारे गए. यह टेस्ट मैच और पूरा दौरा रद्द कर दिया गया है.

अप्रैल 2009
सुरक्षा कारणों से टीमों ने देश का दौरा करने से इनकार कर दिया. पाकिस्तान को अपने ‘घरेलू’ मैचों की मेजबानी तटस्थ स्थानों पर करने के लिए मजबूर होना पड़ा, मुख्यतः संयुक्त अरब अमीरात (अबू धाबी, दुबई और शारजाह) में. इंग्लैंड ने 2010 में पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के बीच दो टेस्ट की मेजबानी की थी.

फरवरी 2013 में पाकिस्तान में लौटा क्रिकेट
अफगानिस्तान इलेवन पाकिस्तान ए टीम के खिलाफ लाहौर, मुल्तान और हैदराबाद में दो वनडे और एक टी20 सहित तीन अनौपचारिक मैच खेलने के लिए पाकिस्तान आई थी. मेजबान टीम ने तीनों मैच जीते.

India vs Pakistan: रोहित शर्मा बतौर कप्तान बाबर आजम से काफी आगे, टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया में पाकिस्तान पर रही है हावी

दिसंबर 2014
केन्या ने पाकिस्तान ए के खिलाफ पांच सीमित ओवरों के मैचों के लिए देश का दौरा किया. सभी मैच लाहौर में खेले गए. मेजबान टीम ने सभी पांच मैच जीते.

मई 2015
जिम्बाब्वे 2009 के बाद पाकिस्तान का दौरा करने वाली पहली टेस्ट टीम बनी. दो टी20 और तीन वनडे मैच लाहौर में आयोजित किए गए. जिम्बाब्वे टीम को राज्य-अतिथि-स्तरीय सुरक्षा दी गई थी. पाकिस्तान सभी मैच जीते थे, लेकिन अंतिम वनडे मैच धुल गया था.

5 मार्च, 2017
पाकिस्तान सुपर लीग का फाइनल लाहौर में खेला गया था. टी20 टूर्नामेंट आमतौर पर संयुक्त अरब अमीरात में खेला जा रहा था, लेकिन पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों की मेजबानी के लिए अपनी तत्परता साबित करने के लिए उत्सुक था. बिना किसी अप्रिय घटना के मैच का सफलतापूर्वक मंचन किया गया. मार्लन सैमुअल्स, डैरेन सैमी और क्रिस जॉर्डन सहित अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों ने पाकिस्तान की यात्रा की.

सितंबर 2017
दक्षिण अफ्रीका ने फाफ डुप्लेसी के नेतृत्व में विश्व एकादश की टीम लाहौर में तीन आधिकारिक टी20 खेले थे. पाकिस्तान ने सीरीज 2-1 से सीरीज जीती थी. इस दौरान पाकिस्तान आने वाले अन्य बड़े नामों में जॉर्ज बेली, डेविड मिलर, हाशिम अमला, सैमुअल बद्री और अनुभवी पॉल कॉलिंगवुड शामिल रहे.

Tags: Champions Trophy, Champions Trophy 2025, Cricket news, ICC, Pakistan, Pcb





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here