इंग्लिश तेज गेंदबाज ने रौब झाड़ने पर अपने पूर्व साथी खिलाड़ी अजीम रफीक से मांगी माफी

0
6


लंदन. इंग्लैंड के तेज गेंदबाज टिम ब्रेसनन (Tim Bresnan) ने अजीम रफीक (Azeem Rafiq ) से रौब झाड़ने के उनके दावों के लिये माफी मांगी है, लेकिन यॉर्कशर के अपने इस पूर्व साथी के लिये किसी तरह की नस्लीय टिप्प्णी करने का खंडन किया है. रफीक ने बीते दिन सांसदों की डिजिटल, संस्कृति, मीडिया और खेल समिति के सामने अपनी बात रखते हुए नस्लवाद और भेदभाव के अपने अनुभवों को साझा किया. गवाह के रूप में अपने बयान में 30 साल के रफीक ने दावा किया कि ब्रेसनन उनके लिये अक्सर नस्लीय टिप्पणी करते थे.

इसके साथ ही उन्होंने दावा किया कि वह उन 6 या 7 खिलाड़ियों में शामिल थे जो उन पर रौब झाड़ते थे. ब्रेसनेन ने ट्विटर पर जारी अपने बयान में कहा कि अजीम रफीक को यॉर्कशर में परेशान करने के किसी अनुभव में मेरी किसी भी तरह की भूमिका के लिये मैं माफी मांगता हूं.

ब्रेसनन ने अजीम के आरोपों का किया खंडन
उन्होंने कहा कि न्यायाधिकरण के सामने अजीम के बयान को मैंने दोपहर बाद ही देखा और मैं उनके इन आरोपों का खंडन करता हूं कि मैंने उनके खिलाफ अक्सर नस्लीय टिप्पणी की. अजीम रफीक ने सुनवाई के दौरान कहा था कि जो रूट अच्छे इंसान हैं. उन्‍होंने कभी नस्लीय भाषा का प्रयोग नहीं किया. मुझे यह और भी बुरा लगा, क्योंकि वह गैरी बैलेंस के साथ रहते थे. शायद उन्‍हें याद नहीं हो.’

IND vs NZ: रोहित शर्मा की कप्‍तानी का डेब्‍यू और जयपुर का कनेक्‍शन काफी पुराना

IND vs NZ: राहुल द्रविड़ की कप्‍तानी और रोहित शर्मा का डेब्‍यू, जानें कैसी थी दोनों की पहली मुलाकात, देखें Video

इंग्लैंड के पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर बैलेंस ने स्वीकार किया कि उन्होंने रफीक को पाकी (पाकिस्तानियों के लिए प्रयुक्त शब्द) कहा था, लेकिन उन्होंने कहा कि यह उन्होंने दोस्ताना मजाक में कहा था. अजीम रफीक ने अपने बयान में कहा कि एशियाई मूल के खिलाड़ियों को केविन नाम से बुलाया जाता था. उन्होंने कहा कि गैरी बैलेंस दूसरे रंग के लोगों को केविन नाम से बुलाते थे

Tags: Azeem Rafiq, Cricket news, England





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here