PAK vs BAN: महमूदुल्लाह का ‘ड्रीम ओवर’ भी नहीं रोक सका पाकिस्तान का विजयरथ, जानें कहां रह गई चूक

0
7


नई दिल्ली. पाकिस्तान ने तीसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में बांग्लादेश (Pakistan vs Bangladesh) को पांच विकेट से हराकर ढाका में सीरीज में 3-0 से जीत हासिल की. 125 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान की टीम आसान जीत की ओर बढ़ रही थी और फिर तीन विकेट गंवा बैठी, क्योंकि बांग्लादेश के कप्तान महमुदुल्लाह (Mahmudullah) ने लगभग चमत्कार ही कर दिया था. लेकिन मैच को मोहम्मद नवाज (Mohammad Nawaz) के एक विवादास्पद पुल आउट के लिए याद किया जाएगा, जिन्होंने आखिरकार आखिरी गेंद पर विजयी रन बनाए. आखिरी गेंद पर दो रनों की जरूरत थी. नवाज को महमूदुल्लाह ने बोल्ड कर दिया, लेकिन आखिरी समय में पाकिस्तान के बल्लेबाज ने पुल आउट कर लिया. जैसे ही भ्रम की स्थिति पैदा हुई, अंपायरों ने इसे डेड बॉल करार दिया.

इस मैच में महमूदुल्लाह के पास डेड बॉल वाले ड्रामे के बाद नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़े पाकिस्तानी बल्लेबाज खुशदिल शाह (Khushdil Shah) की मांकडिंग करने का मौका था, लेकिन उन्होंने खेल भावना का सम्मान करते हुए ऐसा नहीं किया. हालांकि, बहुत से लोग इसे महमूदुल्ला की गलती या बेवकूफी बता रहे हैं. लेकिन वहीं दूसरी तरफ इसे खेल भावना का सम्मान बताया जा रहा है. दरअसल, आईपीएल 2019 के दौरान जब रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने राजस्थान रॉयल्स के बल्लेबाज जोस बटलर को मांकड किया था, तब खेल भावना को लेकर काफी सवाल उठे थे. क्रिकेट जगत और फैन्स दो गुटों में बंट गए थे.

BAN vs PAK: पाकिस्तान ने ‘बेईमानी’ से जीता अंतिम टी20 मैच! VIDEO में देखें लास्ट बॉल का ड्रामा

आईसीसी के नियम 42.14 में शुरुआती तौर पर कहा गया था, ‘गेंदबाज को, जब वह गेंद नहीं फेंकी हो और अपनी आम डिलीवरी के लिए स्विंग पूरा ना किया हो तब वह नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़े बल्लेबाज को रन आउट कर सकता है.’ साल 2017 में नया नियम आया जिसके बाद गेंदबाज को गेंद फेंकने का पूरी तरह अनुमान लगाने के बाद भी नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़े बल्लेबाज को आउट करने का हक होता है.’ ऐसा ही मौका मैच के दौरान महमूदुल्लाह को मिला, अगर वह इस मौके का फायदा उठा लेते तो मैच बांग्लादेश की झोली में जा सकता था.

बता दें कि सीरीज की अपनी तीसरी जीत के लिए 125 रनों का पीछा करते हुए मेहमान पाकिस्तान जीत के लिए अच्छी तरह से तैयार था. बांग्लादेश के खिलाफ अंतिम चार ओवरों में 26 की जरूरत थी. हालांकि, कुछ तंग गेंदबाजी ने समीकरण को 20 वें ओवर में आठ रन पर गिरा दिया. महमूदुल्लाह, जिन्होंने खेल में पहले गेंदबाजी नहीं की थी, वह इस ओवर में गेंदबाजी करने के लिए आए.

महमूदुल्ला ने अंतिम ओवर की पहली गेंद डॉट फेंकी. इसके बाद अगली दो गेंदों पर विकेट आए.सरफराज अहमद और हैदर अली को बांग्लादेशी गेंदबाज ने वापस पवेलियन भेजा. इसके बाद चौथी गेंद पर इफ्तिकार अहमद ने 90 मीटर का छक्का जड़ा. पांचवी गेंद पर महमूदुल्ला ने इफ्तिकार को पवेलियन की राह दिखा दी. अब अंतिम गेंद में पाकिस्तान को जीत के लिए 2 रन की दरकार थी. अंतिम गेंद पर ड्रामा हुआ. महमूदुल्ला ने मोहम्मद नवाज को बोल्ड कर दिया था, लेकिन उन्होंने पुल आउट कर लिया, जिसके बाद अंपायर ने इसे डेड बॉल घोषित कर दिया.

India vs New Zealand टेस्ट सीरीज से पहले ‘हलाल मीट’ को लेकर ट्रोल हुआ BCCI, जानें क्या है माजरा

इसके बाद महमूदुल्ला को खुशदिल की मांकडिंग का मौका मिला, लेकिन उन्होंने खेल भावना दिखाते हुए इस मौके को हाथ से जाने दिया. अंतिम गेंद पर मोहम्मद नवाज ने चौका जड़ा और पाकिस्तान को तीसरे और अंतिम टी20 मैच में भी जीत दिला दी. मैच के बाद महमूदुल्ला अंपायर के फैसले से नाखुश नजर आए. उन्होंने कहा, ”मैंने सिर्फ अंपायर से पूछा कि क्या यह फेयर बॉल है या नहीं, क्योंकि वह (नवाज) देर से आउट हुआ. मैंने अंपायर से यह सिर्फ और कुछ नहीं. अंपायर की कॉल अंतिम है और हम अंपायरों का सम्मान करते हैं. यह थोड़ा दिल तोड़ने वाला है. हम करीब गए, लेकिन दुर्भाग्य से, ऐसा नहीं हुआ.”

वहीं, मोहम्मद नवाज ने अपने पुल आउट को डिफेंड करते हुए कहा, ”मैं नीचे देख रहा था और उसने (महमुदुल्लाह) गेंद डाली. जब गेंद आधी आ चुकी थी, तब मैंने ऊपर देखा और गेंद को देखा, जिसके कारण मैंने पुल आउट किया.” पाकिस्तान ने पहला मैच चार विकेट जबकि दूसरा मैच आठ विकेट से जीता था.

Tags: Cricket news, Khushdil Shah, Mahmudullah, Mankading, Mohammad Nawaz, PAK vs BAN, Pakistan vs Bangladesh





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here