IND vs NZ: न्यूजीलैंड के बल्लेबाज क्यों चढ़कर खेल रहे हैं? आकाश चोपड़ा ने बताई-भारतीय गेंदबाजों की बड़ी गलती

0
38

[ad_1]

नई दिल्ली. भारत और न्यूजीलैंड के बीच कानपुर में खेले जा रहे पहले टेस्ट (IND vs NZ Kanpur Test) में कीवी ओपनर्स ने शानदार बल्लेबाजी की. विल यंग (Will Young) और टॉम लाथम (Tom Latham) ने पहले विकेट के लिए 151 रन जोड़े. यंग 89 रन बनाकर आर अश्विन की गेंद पर आउट हुए. उनका कैच सब्सिट्यूट के तौर पर विकेटकीपिंग कर रहे केएस भरत (KS Bharat) ने लपका. हालांकि, तब तक यह दोनों ओपनर बड़ी साझेदारी कर चुके थे. दोनों ने कुल 400 गेंद खेली. न्यूजीलैंड की ओपनिंग जोड़ी का भारतीय धरती पर यह दूसरा सबसे अच्छा प्रदर्शन है. इससे पहले, मार्क रिचर्ड्सन और लू विसेंट की जोड़ी ने 2003 के मोहाली टेस्ट में पहले विकेट के लिए 231 रन जोड़े थे. इस दौरान इस जोड़ी ने कुल 479 गेंद खेली थी.

इस बीच, पूर्व भारतीय ओपनर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने तीसरे दिन का खेल शुरू होने के बाद एक ट्वीट किया, जिसमें यह बताया कि क्यों न्यूजीलैंड के बल्लेबाज इतना हावी होकर खेल रहे और भारतीय गेंदबाज कहां चूक कर रहे हैं? उन्होंने लाथम का जिक्र करते हुए लिखा, “लाथम को एक भी बाउंसर नहीं फेंकी. तेज गेंदबाजों की सिर्फ 6 गेंद स्टम्प्स की लाइन में आई और इससे ही विकेट के कई मौके बने. मुझे लगता है कि भारतीय गेंदबाजों को और कोशिश करनी चाहिए और इसी लाइन लेंथ पर गेंद फेंकनी चाहिए.”

दूसरे दिन कीवी ओपनर ने 57 ओवर खेले
आकाश की बात में दम भी नजर आ रहा है. क्योंकि कानपुर टेस्ट के दूसरे दिन भारत की पारी 345 रन पर खत्म हुई. इसके बाद टॉम लाथम और विल यंग बल्लेबाजी के लिए उतरे. लेकिन भारत के 5 गेंदबाज 57 ओवर फेंकने के बाद भी इस जोड़ी को नहीं तोड़ पाए. खासकर तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा (Ishant Sharma) और उमेश यादव. इन दोनों ने कीवी ओपनर्स के लिए शॉर्ट गेंद का इस्तेमाल नहीं किया. उलटे भारतीय गेंदबाज रन बचाने की रणनीति के तहत गेंदबाजी करते दिखे.

दूसरे दिन टी ब्रेक के बाद 31 ओवर में भारतीय गेंदबाजों ने सिर्फ 57 रन दिए. भले ही वो रन बचाने में सफल रहे. लेकिन विकेट नहीं हासिल कर पाए. यंग और लाथम ने इसी का फायदा उठाया और दूसरे दिन 129 रन जोड़ डाले और फिर तीसरे दिन इस साझेदारी को 150 रन के पार पहुंचा दिया.

क्रुणाल पंड्या ने बड़ौदा की कप्तानी छोड़ी, मुश्ताक अली ट्रॉफी में हुआ था टीम का बुरा हाल

On This Day: जब सुरेश रैना पत्नी को प्रपोज करने पर्थ से लंदन पहुंच गए, एमएस धोनी की बात भी नहीं मानी

भारतीय तेज गेंदबाजों ने शॉर्ट गेंद का इस्तेमाल नहीं किया
उमेश यादव ने तीसरे दिन लंच तक 11.3 ओवर गेंदबाजी की. लेकिन एक भी शॉर्ट गेंद नहीं फेंकी. यही हाल ईशांत शर्मा का भी रहा. उन्होंने भी न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों को परेशान करने के लिए ना तो स्लो बाउंसर और ना ही शॉर्ट गेंदों का इस्तेमाल किया. इसी का फायदा उठाते हुए न्यूजीलैंड ने तीसरे दिन लंच तक 85 ओवर के खेल में 2 विकेट के नुकसान पर 197 रन बनाए.

Tags: Aakash Chopra, Cricket news, IND vs NZ, IND vs NZ 1st test, India vs new zealand, Ishant Sharma, Tom Latham



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here