बाबर आजम कन्वर्जन रेट में विराट कोहली के आधे भी नहीं, यही हाल रहा तो 20 टेस्ट शतक भी ख्वाब हो जाएंगे

0
27

[ad_1]

नई दिल्ली. पाकिस्तान के बाबर आजम (Babar Azam) बड़ी-बड़ी और मैचविनिंग पारियां खेलने के लिए मशहूर हैं. बाबर टीम के कप्तान भी हैं. यही कारण है कि उनकी तुलना अक्सर विराट कोहली (Babar Azam vs Virat Kohli) से की जाती है. फिलहाल विराट और बाबर (Virat Kohli vs Babar Azam) दोनों ही टेस्ट सीरीज खेल रहे हैं और अपनी-अपनी टीमों की कप्तानी भी कर रहे हैं. विराट कोहली न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट की पहली पारी में खाता नहीं खोल सके. बाबर ने बांग्लादेश के खिलाफ 60 रन की नाबाद पारी खेली. तो क्या बाबर शतक बना पाएंगे.

विराट कोहली 2011 से टेस्ट मैच खेल रहे हैं और बाबर आजम 2016 से. बाबर अभी 36 टेस्ट और विराट 96 टेस्ट मैच खेल चुके हैं. इसलिए हम यहां दो तरह की तुलना कर रहे हैं. पहला बाबर आजम (Babar Azam) की तरह विराट कोहली ने शुरुआती 36 टेस्ट में कैसा प्रदर्शन किया था. दूसरा जब से बाबर आजम टेस्ट मैच खेल रहे हैं, तब से विराट कोहली (Virat Kohli) ने इस फॉर्मेट में कैसा प्रदर्शन किया है.

विराट ने शुरुआती 36 टेस्ट में 11 शतक लगाए
बाबर आजम ने 36 टेस्ट में 42.58 की औसत से 2385 रन बनाए हैं. उन्होंने इन मैचों में 5 शतक और 18 अर्धशतक लगाए हैं. यानी उनका अर्धशतक को शतक में बदलने का कन्वर्जन रेट काफी कम है. विराट ने अपने शुरुआती 36 टेस्ट मैच में 45.91 की औसत से 2755 रन बनाए थे. इनमें 11 शतक और 11 अर्धशतक शामिल थे. यानी उनका कन्वर्जन रेट शानदार था. वैसे बता दें कि उनका यह कन्वर्जन रेट अब भी ऐसा ही बरकरार है.

बाबर के डेब्यू के बाद विराट के 14 शतक 
बाबर आजम ने पहला टेस्ट 13 अक्टूबर 2016 को खेला था. इसलिए दूसरी तुलना तभी से करते हैं, जब आजम टेस्ट क्रिकेटर बने. बाबर आजम के आंकड़े तो इस दौरान वही रहे, जो हमने ऊपर बताए हैं. यानी 36 मैच में 42.58 की औसत और 5 शतक की मदद से 2385 रन. कोहली ने 13 अक्टूबर 2016 के बाद 48 टेस्ट खेले हैं और उनका प्रदर्शन बेहतर होता गया है. कोहली ने इन 48 टेस्ट मैच में 56.90 की औसत से 4211 रन बनाए हैं. उन्होंने इन मैचों में 14 शतक और 15 अर्धशतक बनाए हैं. यानी फिफ्टी को सेंचुरी में बदलने का उनका कन्वर्जन रेट अब भी उतना ही शानदार है.

विराट कोहली का ओवरऑल 96 टेस्ट मैच खेले हैं. उन्होंने इन मैचों में 51.08 की औसत से 7765 रन बनाए हैं. इनमें 27 शतक और इतने ही अर्धशतक हैं. स्पष्ट है कि विराट लगभग अपने हर दूसरे अर्धशतक को शतक में तब्दील कर देते हैं. दूसरी ओर आजम अपने हर चौथे अर्धशतक को शतक में तब्दील कर पाते हैं.

विराट ने अपनी हर छठी पारी में शतक लगाया
बाबर आजम 65 टेस्ट पारियों में सिर्फ 5 शतक लगा पाए हैं. यानी हर 13वीं पारी में एक शतक. दूसरी ओर, विराट ने औसतन अपनी हर छठी पारी में एक शतक लगाया है. यानी, बाबर आजम का शतक लगाने का औसत विराट का आधा भी नहीं है. बाबर अगर इसी रफ्तार से आगे बढ़ते हैं तो उन्हें 20 शतक लगाने के लिए करीब 260 पारियां खेलनी होंगी. वैसे भी आज के तेजतर्रार क्रिकेट में इतनी टेस्ट पारियां खेल पाना आसान नहीं होगा.

Tags: Babar Azam, Cricket news, Cricket Records, India vs new zealand, Pakistan, Pakistan vs Bangladesh, Virat Kohli



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here