रोहित शर्मा को ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज 2009 में ही IPL टीम का उप-कप्तान बनाना चाहते थे, पूर्व भारतीय क्रिकेटर का खुलासा

0
31

[ad_1]

नई दिल्ली. रोहित शर्मा को टी20 के बाद वनडे टीम का कप्तान बना दिया गया है. वो दक्षिण अफ्रीका दौरे पर वनडे टीम की कमान संभालेंगे. उन्हें वनडे टीम का कप्तान बनाए जाने पर पूर्व भारतीय स्पिनर प्रज्ञान ओझा (Pragyan Ojha) ने बड़ा बयान दिया है. ओझा ने कहा कि रोहित की नेतृत्व क्षमता सबसे पहले ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट (Adam Gilchrist) ने पहचानी थी. गिलक्रिस्ट ने आईपीएल के दौरान रोहित शर्मा को डेक्कन चार्जर्स का उप कप्तान बनाए जाने का सुझाव भी दिया था.

रोहित को एक दिन पहले ही वनडे टीम की कप्तानी के साथ टेस्ट टीम की उपकप्तानी सौंपी गई है. उन्हें अजिंक्य रहाणे की जगह यह जिम्मेदारी सौंपी गई है. रहाणे बीते 1 साल से फॉर्म से जूझ रहे हैं.

प्रज्ञान ने रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को लेकर क्रिकबज पर कहा, “रोहित जब अपनी पहली आईपीएल फ्रेंचाइजी डेक्कन चार्जर्स के लिए खेलने आए थे तो उन्हें एक लीडर के तौर पर नहीं देखा जाता था. लेकिन उसी समय गिलक्रिस्ट ने कहा था कि उन्हें टीम का उप-कप्तान बनाया जाना चाहिए.”

गिलक्रिस्ट ने पहली बार रोहित की नेतृत्व क्षमता को पहचाना था: ओझा
ओझा ने आगे कहा, “जब रोहित पहली बार मुंबई की टीम में आए, तो उन्हें कभी भी एक लीडर के रूप में नहीं पेश किया गया. धीरे-धीरे चीजें बदलने लगीं, जब उन्हें डेक्कन चार्जर्स के कोर ग्रुप में रखा गया तो एडम गिलक्रिस्ट चाहते थे कि रोहित शर्मा को उपकप्तान बनाया जाए.” साल 2009 में जब एडम गिलक्रिस्ट की कप्तानी में डेक्कन चार्जर्स ने आईपीएल खिताब जीता, तो ओझा और रोहित टीम का हिस्सा थे.

तब गिलक्रिस्ट ने 16 मैच में 495 रन बनाए थे. उनके बाद रोहित शर्मा ही डेक्कन चार्जर्स के लिए सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज थे. उन्होंने 362 रन बनाए थे.

रोहित 3 साल तक डेक्कन चार्जर्स के साथ रहे थे
रोहित ने 20 साल की उम्र में 2007 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था. इसके बाद वो आईपीएल (IPL) के तीन सीजन में डेक्कन चार्जर्स के साथ रहे. उन्हें 2011 में मुंबई इंडियंस ने खरीदा था और इसके बाद जो हुआ वो इतिहास है. उनकी कप्तानी में मुंबई इंडियंस ने 5 बार आईपीएल का खिताब जीता है.

Ashes, AUS vs ENG: इंग्लैंड की मुश्किलें बढ़ी, बेन स्टोक्स के घुटने में लगी चोट

विराट कोहली को वनडे की कप्तानी से क्यों हटाया गया ? सौरव गांगुली ने किया खुलासा

‘रोहित खिलाड़ियों को लेकर फीडबैक देते थे’
प्रज्ञान ने रोहित की लीडरशिप को लेकर कहा, 2009 में उन्हें अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलते हुए 2 साल ही हुए थे. लेकिन जब वो कुछ खिलाड़ियों के बारे में फीडबैक या निश्चित गेम प्लान देते थे तो टीम मैनेजमेंट को उनमें नेतृत्व के गुण दिखाई देने लगे. डेक्कन चार्जर्स की टीम में चर्चा शुरू हो गई थी कि गिलक्रिस्ट की जगह अगर कोई लेने वाला है तो वह रोहित हो सकता है. इसके बाद से ही रोहित के बारे में लोगों का नजरिया बदलने लगा और लगा कि वो ना केवल सक्षम बल्लेबाज हैं, बल्कि भविष्य में कप्तान भी बन सकते हैं.

Tags: Adam gilchrist, Cricket news, IPL, Pragyan Ojha, Rohit sharma, Team India Captain



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here