ऋतुराज ने 5 में से 4 मैच में जड़ा शतक, फिर भी टीम इंडिया में जगह पक्की नहीं, सेलेक्टर्स 2 युवाओं को दे चुके हैं झटका

0
27

[ad_1]

नई दिल्ली. ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) का विजय हजारे ट्राॅफी में शानदार प्रदर्शन जारी है. वे 5 में से 4 मैच में (Vijay Hazare Trophy) शतक लगा चुके हैं. ऐसे में सभी को उम्मीद है कि 24 साल के इस युवा बल्लेबाज को साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज (India vs South Africa) में मौका दिया जा सकता है. लेकिन बीसीसीआई (BCCI) ने इस तरह के प्रदर्शन के बाद भी पिछले साल 2 युवाओं को झटका दिया था. ऐसे में ऋतुराज की टीम इंडिया (Team India) में अभी जगह पक्की नहीं मानी जा सकती. लेकिन वे रेस में जरूर हैं.

ऋतुराज गायकवाड़ टूर्नामेंट के (Vijay Hazare Trophy 2021-22) एक मुकाबले में मंगलवार को चंडीगढ़ के खिलाफ 168 रन बनाकर आउट हुए. इससे पहले उन्होंने मप्र के खिलाफ 136, छत्तीसगढ़ के खिलाफ नाबाद 154 और केरल के खिलाफ 124 रन बनाए थे. यानी महाराष्ट्र के कप्तान ऋतुराज शानदार फॉर्म में चल रहे हैं. इससे पहले आईपीएल 2021 में उन्हाेंने सीएसके (CSK) की ओर से खेलते हुए 600 से अधिक रन बनाए थे और ऑरेंप कैप पर कब्जा किया था. इतना ही नहीं टीम ने टी20 लीग का खिताब भी जीता था.

 पृथ्वी और पडिक्कल ने किया था कमाल

विजय हजारे ट्रॉफी के पिछले सीजन की बात की जाए तो मुंबई की टीम चैंपियन बनी थी. टीम की ओर से पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 800 से अधिक रन बनाए थे. पृथ्वी ने 8 मैच की 8 पारियों में 165 की औसत से 827 रन बनाए थे. 4 शतक और एक अर्धशतक लगाया था. इतना ही नहीं उन्होंने नाबाद 227 रन की आक्रामक पारी भी खेली थी. इसके अलावा देवदत्त पडिक्कल (Devdutt Padikkal) ने 7 पारियों में 4 शतक और 3 अर्धशतक के साथ 737 रन बनाए थे. कर्नाटक के इस बल्लेबाज ने हर पारी में 50 से अधिक रन बनाए थे.

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ नहीं मिला मौका

विजय हजारे ट्रॉफी के बाद नवंबर में टीम ने ऑस्ट्रेलिया में (India vs Australia) तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली. हालांकि सीरीज में भारतीय टीम को 1-2 से हार मिली थी. फिर मार्च 2021 में टीम ने घर में इंग्लैंड से (India vs England) तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली. इसमें टीम इंडिया 2-1 से जीत दर्ज करने में सफल रही थी. पृथ्वी शॉ और देवदत्त पडिक्कल को अच्छे प्रदर्शन के बाद भी दोनों सीरीज के लिए टीम में जगह नहीं मिली थी. इसके बाद जुलाई 2021 में श्रीलंका दाैरे पर टी20 और वनडे सीरीज के लिए दोनों को चुना गया. लेकिन तब जबकि अधिकतर सीनियर खिलाड़ी इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज खेल रहे थे.

IND vs SA: पृथ्वी शॉ की 5 पारियों ने तोड़ा साउथ अफ्रीका में खेलने का सपना! अब करना होगा लंबा इंतजार

धवन का औसत कोहली से भी अच्छा

टीम इंडिया (Team India) की बात की जाए तो वनडे में बतौर ओपनर केएल राहुल (KL Rahul) और रोहित शर्मा (Rohit Sharma) का खेलना तय है. रोहित के चोटिल होने के बाद तीसरे ओपनर के तौर पर शिखर धवन (Shikhar Dhawan) हैं. धवन हालांकि विजय हजारे ट्रॉफी के पांचों मैच में फेल रहे हैं. लेकिन वनडे में उनका प्रदर्शन पिछले 2 साल में अच्छा रहा है. 1 जनवरी 2020 से बात करें तो वे 11 पारियों में 59 की औसत से 587 रन बना चुके हैं. 6 अर्धशतक लगा चुके हैं. वे भारत की ओर से सबसे अधिक रन बनाने के मामले में दूसरे नंबर पर है. कोहली इस दौरान 12 पारियों में सिर्फ 560 रन बना सके हैं.

Tags: Cricket news, Ind vs sa, India vs South Africa, Prithvi Shaw, Rohit sharma, Ruturaj gaikwad, Shikhar dhawan, Team india



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here