IND vs SA: पहले टेस्ट में इन खिलाड़ियों का खेलना तय, 3 स्थानों पर माथापच्ची करेंगे विराट-द्रविड़

0
34

[ad_1]

नई दिल्ली. विराट कोहली (Virat Kohli) की अगुवाई में भारतीय टीम 26 दिसंबर को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला खेलेगी. सेंचुरियन में होने वाले बॉक्सिंग डे टेस्ट (India vs South Africa) मैच से पहले कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) और कप्तान कोहली को प्लेइंग-11 चुनने में काफी मशक्कत करनी होगी. केएल राहुल, मयंक अग्रवाल, कोहली, ऋषभ पंत और जसप्रीत बुमराह पहला टेस्ट जरूर खेलेंगे. रविचंद्रन अश्विन, मोहम्मद शमी और चेतेश्वर पुजारा भी टीम में स्थान बनाते दिख रहे हैं. बाकी बचे तीन स्थानों के लिए कई खिलाड़ी दावेदार हैं.

5 बॉलरों के साथ उतर सकती है टीम इंडिया
भारत ने पिछले साल बॉक्सिंग डे के बाद से 15 टेस्ट मैच खेले हैं और हर बार प्लेइंग-11 पांच गेंदबाज शामिल थे. इनमें से 13 मुकाबलों में रवींद्र जडेजा या वॉशिंगटन सुंदर बतौर ऑलराउंडर शामिल रहे. ये दोनों खिलाड़ी दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर भारतीय टीम का हिस्सा नहीं हैं जिससे टीम संयोजन में थोड़ी मुश्किलें आ सकती हैं. हालांकि रविचंद्रन अश्विन के हालिया फॉर्म को देखते हुए वह 7वें नंबर पर उपयोगी भूमिका निभा सकते हैं.

अश्विन ने साल 2017 से 2020 के अंत तक 39 टेस्ट पारियों में 16.72 की औसत से रन बनाया था. लेकिन पिछले 12 महीनों में वह अपनी फॉर्म को दोबारा पाने में सफल रहे. उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज में शतक जड़ा, सिडनी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच बचाने के लिए चोट के बावजूद 190 मिनट बल्लेबाजी की. उनका औसत भी सुधर कर 28 का हो गया. टीम इंडिया अगर पांच गेंदबाजों के साथ उतरने का फैसला करती है तो अश्विन के अलावा शार्दुल ठाकुर भी खेलेंगे. ठाकुर ने टेस्ट क्रिकेट में तीन अर्धशतक जड़े हैं. वह आठवें नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिए सक्षम हैं.

रहाणे, अय्यर और विहारी में कौन खेलेगा?
5वें नंबर पर बल्लेबाजी करने की रेस में श्रेयस अय्यर और हनुमा विहारी पूर्व उप कप्तान अजिंक्य रहाणे से आगे निकलते दिख रहे हैं. रहाणे ने पिछले साल मेलबर्न में भारत की जीत में 112 और 27* रन का योगदान दिया था. इसके बाद से 12 टेस्ट में उनकाऔसत 19.57 का है. उन्होंने अगस्त में लॉर्ड्स में भारत की जीत में 61 रनों की महत्वपूर्ण पारी का योगदान दिया, लेकिन उसके बाद छह पारियों में क्रमश: 18, 10, 14, 0, 35 और 4 का स्कोर बना सके.

Virat Captainship Controversy: विराट कोहली के पक्ष में उतरे संजय मांजरेकर, सौरव गांगुली पर बुरी तरह भड़के

न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में डेब्यू पारी में ही शतक लगाने वाले श्रेयस अय्यर का दावा ज्यादा मजबूत है. अय्यर को न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में रहाणे के ऊपर तरजीह भी दी गई है. वहीं विहारी ने भारतीय ए टीम के साथ दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर हाल में ही तीन अर्धशतक जड़ा है. ऐसे में भारतीय टीम प्रबंधन रहाणे की जगह विहारी या अय्यर को मौका दे सकता है. वहीं विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत छठे नंबर पर खेलेंगे.

इशांत या सिराज में से कोई एक खेलेगा
वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में साउथैम्पटन के मैदान पर भारत तीन तेज गेंदबाजों और दो स्पिनरों के साथ उतरा. टीम प्रबंधन का यह फैसला गलत साबित हुआ. इसके बाद भारत इंग्लैंड दौरे पर चार तेज गेंदबाज और बतौर ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा के साथ उतरा. इस वजह से अश्विन को लगातार चार टेस्ट मैच में बाहर बैठना पड़ा. अक्षर पटेल और रवींद्र जडेजा के नहीं रहने पर अश्विन का खेलना तय लग रहा है. वहीं शार्दुल ठाकुर भी बल्लेबाजी में गहराई प्रदान करते हैं.

HBD Piyush Chawla: 25 वनडे खेलकर वर्ल्ड कप जीता, फिर बना टी20 का सबसे सफल गेंदबाज

जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी फिट रहने पर प्लेइंग-11 में जरूर शामिल होंगे. न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज में इन दोनों गेंदबाजों को आराम दिया गया था. इशांत शर्मा  ने साल 2018 की शुरुआत से 2020 की अंत तक 26 टेस्ट मैचों में 85 विकेट चटकाया था. हालांकि इस साल वह 8 मैचों में सिर्फ 14 विकेट ही ले सके हैं. लॉर्ड्स टेस्ट में पांच विकेट लेकर जीत दिलाने के अलावा वह पूरी तरह बेअसर दिखे हैं.

इस दौरान मोहम्मद सिराज  ने 10 टेस्ट मैचों में 33 विकेट चटकाकर अपना दावा मजबूत कर लिया है. सिराज की आक्रामता के कायल कप्तान विराट कोहली से लेकर सचिन तेंदुलकर तक हैं. सिराज ने मुंबई टेस्ट में न्यूजीलैंड के खिलाफ नई गेंद से तीन विकेट चटकाकर तहलका मचा दिया था. वह सटीक बाउंसर फेंकने में भी उस्ताद हैं.

Tags: Ajinkya Rahane, Cricket news, India vs South Africa, Ishant Sharma, Mohammed siraj, Virat Kohli

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here