Exclusive: दक्षिण अफ्रीका से क्यों जीत सकता है भारत, जहीर खान ने बताई टीम इंडिया की सबसे बड़ी खूबी

0
36

[ad_1]

नई दिल्ली. दक्षिण अफ्रीका (South Africa) एक ऐसा अजेय दुर्ग है, जिसे फतह करने के लिए भारत 30 साल से प्रयास कर रहा है, लेकिन कामयाबी नहीं मिल रही है. कप्तान अजहरुद्दीन से लेकर विराट कोहली (Virat Kohli) तक सबने कोशिश की, लेकिन हर बार ढाक के तीन पात. भारत को दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) दौरे पर सात कोशिशों में छह में हार मिली और एक बार ड्रॉ से संतोष करना पड़ा. तो क्या इस बार कामयाबी मिलेगी? जहीर खान (Zaheer Khan) ने इस बारे में ‘न्यूज18हिंदी’ से खुलकर बातें की और विस्तार से बताया कि भारत जीत का दावेदार क्यों है. भारतीय टीम (Team India) की सबसे बड़ी खूबी क्या है. स्ट्रेटजी क्या होनी चाहिए.

  • क्या भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट सीरीज जीत सकती है?

    भारतीय टीम के पास बहुत अच्छा मौका है. भारतीय टीम निरंतरता के साथ अच्छा खेल रही है. वह अलग-अलग परिस्थितियों में बेहतरीन खेल दिखा रही है. आप देखेंगे कि इस बार भी ऐसा ही देखने को मिलेगा. खासकर दक्षिण अफ्रीका में भारतीय गेंदबाज अच्छा प्रदर्शन करते दिखेंगे.

  • भारत की मौजूदा टीम की सबसे बड़ी खूबी क्या है?

    गेंदबाजी भारतीय टीम की सबसे बड़ी ताकत हो सकती है. दक्षिण अफ्रीका की पिचों पर तेज गेंदबाजों के लिए हमेशा मदद होती है. भारतीय गेंदबाज एंज्वाय करेंगे. भारतीय टीम में ऐसे गेंदबाज हैं, जो दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों को परेशान करते दिखेंगे. भारतीय टीम की सबसे बड़ी ताकत यह है कि उसके पास ऐसी गेंदबाजी है, जो 20 विकेट लेने का दमखम रखती है.

  • पिछले 5 साल में हमने कई बार देखा है कि हमारे गेंदबाज तो विकेट ले लेते हैं, लेकिन बल्लेबाज संघर्ष करते दिखते हैं. कहीं बैटिंग हमारी कमजोरी तो नहीं बन जाएगी?

    नहीं. आप ये तो नहीं कह सकते कि बैटिंग कमजोरी बन सकती है. क्योंकि आप जीत रहे हैं. जब आप जीत रहे हो तो जीतने के लिए जितने रन जरूरी हैं, वह भी बना रहे हो. मैं इसे इसी तरीके से देखता हूं. ओवरऑल यह टीम वर्क है और हम जीत रहे हैं.

  • Team India, India vs South Africa, IND vs SA, IND vs SA Test Series, Indian Cricket Team, India tour of South Africa, India Tour of SA, Cricket News

  • विराट कोहली, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे के रहते भी मिडिल ऑर्डर के बार-बार लड़खड़ाने पर क्या कहेंगे?

    जब आप मिडिल ऑर्डर की बात कर रहे हो तो वह फैक्ट्स हैं. आप उसे इस तरीके से देख सकते हैं. लेकिन मैं कहूंगा कि आपने बतौर टीम कैसे किया है. बतौर टीम प्रदर्शन अच्छा है तो फिर मिडिल ऑर्डर पर इतना जोर देने की जरूरत नहीं है या उन पर दबाव बनाने की जरूरत नहीं है.

  • लेकिन हमने ऑस्ट्रेलिया से लेकर इंग्लैंड दौरे तक बार-बार देखा कि लोअर ऑर्डर ने मैच संभाला? हम मुख्य बल्लेबाजों की जिम्मेदारी कितनी बार निचलेक्रम के भरोसे छोड़ सकते हैं?

    देखिए जीतने की भी एक आदत होती है. आपने जो लोअर ऑर्डर की बैटिंग का जिक्र किया, वह महत्वपूर्ण है. आपको यह भरोसा होना चाहिए कि आप जीत सकते हो. इसी भरोसे के चलते ही निचलेक्रम के बल्लेबाज भी अच्छा प्रदर्शन कर जाते हैं.

  • श्रेयस अय्यर-मोहम्मद सिराज जैसे युवा गेम चेंजर होंगे या सीनियर खिलाड़ी टीम को लीड करेंगे?

    मुझे लगता है कि टीम मैनेजमेंट की प्लानिंग पर सबसे ज्यादा निर्भर करेगा. आपको बहुत अच्छी टीम मिली है. यह किन खिलाड़ियों को लेकर प्लेइंग इलेवन में उतरते हैं. क्या स्ट्रेटजी बनाते हैं. सीरीज का रिजल्ट इन बातों पर निर्भर करेगा. इसीलिए मैं इस सीरीज में देखना पसंद करूंगा कि टीम किस योजना के साथ मैदान पर उतरती है.

  • हमें जहीर खान जैसा बाएं हाथ का तेज गेंदबाज कब मिलेगा?

    उसके लिए तो इंतजार है. लेकिन आप देख रहे हो कि जिस तरीके से यह बॉलिंग अटैक अच्छा प्रदर्शन कर रहा है. ऐसे में किसी भी गेंदबाज के लिए इस बॉलिंग अटैक का हिस्सा बनने के लिए बहुत मेहनत करनी होगी.

  • ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी | आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी |

    [ad_2]

    Source link

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here