इंग्लैंड को 12 दिन में एशेज सीरीज हराई, अब डेविड वॉर्नर ने मेहमान टीम को दी बड़ी सलाह

0
39

[ad_1]

मेलबर्न. एशेज श्रृंखला जीत चुकी आस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने हार से बेजार इंग्लैंड क्रिकेट टीम को आस्ट्रेलिया की अतिरिक्त उछाल भरी पिचों के अनुकूल ढलने के लिये कृत्रिम विकेट पर अभ्यास की सलाह दी है. आस्ट्रेलिया ने 12 दिन के भीतर तीन टेस्ट जीतकर एशेज श्रृंखला में 3-0 की विजयी बढत बना ली है.

डेविड वॉर्नर (David Warner) ने कहा,”बल्लेबाजी के नजरिये से देखें तो उछाल एक बड़ा कारण रहा है. आस्ट्रेलिया में पले-बढे होने के कारण हमारे लिये इन पिचों पर खेलना इंग्लैंड की तुलना में अलग है. मैं इंग्लैंड टीम को सलाह दूंगा कि वे कृत्रिम पिचों पर अभ्यास करें ताकि इस अतिरिक्त उछाल से निपट सकें. आपको हमेशा तैयारी के लिए रास्ते ढूंढने होते हैं और ऑस्ट्रेलिया में आप उछाल भरी पिचों से निपटने के लिए इंग्लैंड में सिंथेटिक विकेट पर प्रैक्टिस करें.”

इंग्लिश गेंदबाजों ने सही लेंथ पर गेंदबाजी नहीं की: वॉर्नर
वॉर्नर ने कहा, “इंग्लैंड के गेंदबाजों ने पहले तीन टेस्ट में शॉर्ट पिच गेंद डालकर गलती की. क्योंकि आस्ट्रेलियाई पिचों पर यह रणनीति कारगर साबित नहीं होती.”

ऑस्ट्रेलिया ने 2019 में एशेज सीरीज अपने पास ही रखने के लिए लंबी तैयारी की थी. उसने 2019 में इंग्लैंड में एशेज सीरीज खेलने से पहले घरेलू टूर्नामेंट शेफील्ड शील्ड में ड्यूक गेंद का इस्तेमाल शुरू किया था. टीम को इसका फायदा भी मिला था. मौजूदा एशेज सीरीज से पहले वार्नर ने खुद पिछले महीने दुबई में कॉन्क्रीट और सिंथेटिक विकेटों पर अभ्यास किया था और वॉर्नर को इसका फायदा मिला और वो टी20 विश्व कप के प्लेय़र ऑफ द टूर्नामेंट रहे थे.

डेविड वॉर्नर संन्‍यास से पहले पूरी करना चाहते हैं 2 ख्‍वाहिश, भारतीय जमीं से जुड़ा है एक सपना

‘सिंथेटिक विकेट पर प्रैक्टिस का गेंदबाजों को भी फायदा होगा’
ऑस्ट्रेलियाई ओपनर ने यह भी संकेत दिया कि सिथेंटिक विकेट पर अभ्यास करने से सिर्फ बल्लेबाजों को नहीं, बल्कि गेंदबाजों को भी फायदा होगा. उन्होंने कहा कि अगर गेंदबाज कृत्रिम विकेट पर प्रैक्टिस करते हैं तो उन्हें पता होगा कि ऑस्ट्रेलिया में किस लेंथ पर गेंदबाजी करनी है. इंग्लिश गेंदबाजों ने ब्रिसबेन और एडिलेड टेस्ट में इसका खामियाजा भुगता. उन्होंने शॉर्ट गेंद तो फेंकी. लेकिन लेंथ सही नहीं होने के कारण वो उसका पूरा फायदा नहीं उठा पाए.

जानिए कौन है वो ‘भारतीय बल्‍लेबाज’, जिसने 175 रन जड़कर अकेले दम पर दिलाई कुवैत को ऐतिहासिक पहली जीत

वॉर्नर ने कहा, “इंग्लैंड में जो बैक ऑफ लेंथ गेंद विकेट पर सीधा जाकर लगेगी. अगर आप इसी लेंथ से ब्रिसेबन या एडिलेड में गेंदबाजी करेंगे तो फिर भूल जाइए कि गेंद स्टम्प से टकराएगी. एक गेंदबाज के तौर पर आपको आगे गेंद फेंकने के लिए साहसी होना पड़ेगा. हमें एक बैटिंग यूनिट के तौर पर यह जरूर लगा कि जब इंग्लैंड के गेंदबाजों ने बॉल को स्विंग कराने के लिए आगे रखा तो हमने इस पर ड्राइव खेले. लेकिन आपको अगर विकेट निकालने हैं तो ऐसा करना ही पड़ेगा. “

Tags: Ashes, Ashes 2021, Ashes 2021-22, Cricket news, David warner, England cricket team

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here